Patrika Hindi News

> > > > Election Commission prepares for Voters list and Voter card distribution in UP election 2017

UP Election 2017

आयोग ने तेज की चुनावी तैयारी, वोटर लिस्ट व वोटर कार्ड के कार्यक्रम तय

Updated: IST Election Commission
यूपी विधानसभा चुनाव की तैयारियां चुनाव आयोग ने तेज कर दी हैं। इसके तहत मतदाता सूचियों को अंतिम रूप देने और मतदाता पहचान पत्रों के वितरण का भी कार्यक्रम तय कर दिया गया है।

झांसी। यूपी विधानसभा चुनाव की तैयारियां चुनाव आयोग ने तेज कर दी हैं। इसके तहत मतदाता सूचियों को अंतिम रूप देने और मतदाता पहचान पत्रों के वितरण का भी कार्यक्रम तय कर दिया गया है। अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्रीमती अमृत सोनी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए डीएम, एडीएम और एसडीएम को दिए।
10 दिसंबर तक शुरू होगा वोटर कार्ड का वितरण
अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि फार्म छह के माध्यम से संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के तहत जो नए नाम मतदाता सूची में जोड़े गए हैं व फार्म सात के माध्मय से जो नाम मतदाता सूची से हटाए गए हैं, उनकी जानकारी प्रति सप्ताह राजनैतिक दलों को हर हालत में दी जाए। इसके साथ ही साथ यह सूची आयोग की वेबसाइट पर भी अपलोड की जाए, ताकि जो चाहे वह देख सके। 10 दिसंबर तक जिलों में पहली डिलीवरी ईपिक (मतदाता पहचान पत्र) की सुनिश्चित की जा रही है। इसलिए बीएलओ से वितरण कराया जाए और यह भी सुनिश्चित किया जाए कि बीएलओ मतदाता पहचान पत्र स्वयं घर-घर जाकर वितरित करें।
मतदाता सूची शुद्ध हो
अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि 5 दिसंबर तक ऑनलाइन व ऑफ लाइन दावों की गुणवत्ता के साथ निस्तारण किया जाना सुनिश्चित किया जाए, ताकि मतदाता सूची शुद्ध तैयार हो सके। 15 दिसंबर को मतदाता सूची को प्रिंट करने के लिए लिंक उपलब्ध कराया जाएगा, लिंक प्राप्त होने पर जिलाधिकारी प्रमाणपत्र प्रेषित करेंगे। इसे भारत निर्वाचन आयोग प्रेषित किया जाएगा, ताकि फाइनल मतदाता सूची का प्रकाशन संभव हो सके।

दिव्यांगों की सूची का सत्यापन करें
अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि ऐसे वोटर जो अपने मूल निवास स्थान पर मतदाता हैं और कार्यवश कहीं और निवास करते हैं, तो उनकी जानकारी निश्चित प्रारूप पर 15 दिसंबर तक प्रेषित कर दें, यदि सूची तैयार नहीं की गई है तो उसे अतिशीघ्र तैयार कर लें। इसके साथ ही दिव्यांग जनों की जो सूची बूथवार तैयार की गई है, उसका सत्यापन अवश्य करा लें। इसके अलावा यह भी कहा गया कि पीजीआरएम पर बीएलओ और सुपरवाइजर के नाम अपलोड किए जाने हैं, इसलिए उक्त नामों को फिर से अपडेट करते हुए शीघ्र प्रमाणपत्र प्रेषित करें।

ये लोग हुए शामिल
वीडियो कांफ्रेंसिंग में झांसी एनआईसी में एडीएम रमाशंकर गुप्ता, एसडीएम सदर चंदन कुमार पटेल, एसडीएम मोंठ पीके यादव, एसडीएम मऊरानीपुर एस के शुक्ला, एसडीएम टहरौली पूनम निगम और एसडीएम गरौठा आदि शामिल हुए।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???