Patrika Hindi News

यातायात माह के समापन पर बोले एसएसपी, नोटबंदी के कारण प्रभावित हुआ अभियान

Updated: IST jhansi
नोटबन्दी का असर सिर्फ रोजमर्रा के कामकाज पर ही नहीं पड़ रहा बल्कि पुलिस और प्रशासन के कार्यकलापों पर भी पड़ा है

झांसी. नोटबन्दी का असर सिर्फ रोजमर्रा के कामकाज पर ही नहीं पड़ रहा बल्कि पुलिस और प्रशासन के कार्यकलापों पर भी पड़ा है। नवम्बर महीने को यातायात माह के तौर पर मनाया जाता है और वाहन चलाने में लापरवाही करने वालों के खिलाफ चालान और जुर्माने की कार्रवाई की जाती है। यातायात माह के समापन के मौके पर झांसी के एसएसपी अखिलेश चौरसिया ने कहा कि नोटबन्दी के कारण इस बार जुर्माने और चालान की कार्रवाई कम हुई लेकिन जागरूकता के कार्यक्रम अधिक चलाये गए।

समापन समारोह में रहे एसएसपी, डीएम

यातायात माह के समापन के मौके पर एसएसपी अखिलेश चौरसिया और डीएम अजय शुक्ला मौजूद रहे। एसएसपी ने कहा कि यातायात माह के दौरान विभिन्न सामाजिक संगठनों ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। उन्होंने कहा कि कुछ लोग जागरूकता से मान जाते है जबकि कुछ लोग दंड से ही मानते हैं, ऐसे लोगों के खिलाफ जुर्माने की कार्रवाई की जाती है। एसएसपी ने यह भी कहा कि इस बार यातायात माह के दौरान नोटबन्दी के कारण जुर्माने और चालान की कार्रवाई पर भी असर पड़ा है। डीएम ने इस मौके पर कहा कि जागरूकता कार्यक्रमों से लोगों की जिंदगी बचाने में मदद मिलती है इसलिये जागरूकता अभियान में लगे पुलिस के कर्मचारियों और सामाजिक संगठनों के लोगों की सराहना होनी चाहिये।

सम्मान समारोह का हुआ आयोजन

यातायात विभाग के यातायात माह के समापन के मौके पर सम्मान समारोह आयोजित हुआ। इसमें ट्रैफिक वार्डन्स और सामाजिक संगठनों के लोगों को सहयोग के लिये सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में एसपी सिटी दिनेश कुमार सिंह, सीओ सिटी संजय कुमार शर्मा, ट्रैफिक सब इंस्पेक्टर सुभाष यादव समेत स्थानीय सामाजिक कार्यकर्ता और कई संगठनों के लोग मौजूद रहे।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???