Server 209
Jodhpur police raids for evidence

Related News

सबूतों के लिए जोधपुर पुलिस का छापा

Jodhpur police raids for evidence

print 
Jodhpur police raids for evidence
9/7/2013 12:25:25 AM
अहमदाबाद।आसाराम बापू पर दर्ज जोधपुर के फार्म हाऊस में बनी कुटिया में नाबालिग का यौन उत्पीड़न करने के मामले के तार अहमदाबाद से भी जुड़े हैं। आरोपी साधक शिवा की पूछताछ में इस मामले से जुड़े कुछ अहम दस्तावेजों के अहमदाबाद के आश्रम में होने की बात सामने आने पर गुरूवार मध्यरात्रि बाद जोधपुर पुलिस की एक टीम ने स्थानीय पुलिस की मदद से आश्रम में दबिश दी।

आश्रम में करीब डेढ़ घंटे जोधपुर पुलिस के उप निरीक्षक राजूराम की अगुवाई में आई टीम ने जांच की और चप्पे-चप्पे का जायजा लिया, जिसमें आसाराम की ध्यान कुटिया व अन्य जगह भी शामिल हैं। इस जांच के दौरान आश्रम से अहम सबूत व दस्तावेज जब्त किए गए हैं। साथ ही आरोपों से घिरी छिंदवाड़ा आश्रम गुरूकुल की वार्डन शिल्पी के बारे में भी आश्रम के पदाधिकारियों व साधकों से पूछताछ की गई।

इसके बाद जोधपुर पुलिस की टीम ने संवाददाताओं को बताया कि मोटेरा आश्रम से उन्हें ऎसे सबूत मिले हैं, जिससे यौन उत्पीड़न मामले की जांच को मजबूती मिलेगी। ये दस्तावेज और सबूत जांच में अहम साबित होंगे। उन्होंने किस प्रकार के दस्तावेज और सबूत मिले हैं यह बताने से इनकार कर दिया। बताया जा रहा है कि यह दल देर रात ही अहमदाबाद से जोधपुर के लिए रवाना हो गया।
जोधपुर पुलिस को पूरा सहयोग : वानखेड़े
आसाराम आश्रम के केन्द्रीय मीडिया प्रभारी सुनील वानखेड़े ने जोधपुर पुलिस की टीम के गुरूवार रात आश्रम में जांच के लिए आने की पुष्टि की है। उन्होने कहा कि आश्रम प्रशासन ने जांच में जोधपुर पुलिस को पूरा सहयोग किया है उन्होंने जो भी दस्तावेज इस मामले की जांच के सिलसिले में हमसे मांगे वो सभी हमने उन्हें उपलब्ध कराए हैं। वानखेड़े ने आश्रम से किसी भी प्रकार की सीडी या फिर क्लिपिंग के बरामद होने की बात से इनकार किया है। उन्होंने कहा कि जोधपुर पुलिस की टीम के साथ शिवा नहीं था।

थानों से लिया आपराधिक रिकॉर्ड
स्थानीय चांदखेड़ा थाने के पुलिस निरीक्षक ए.जी. गोहिल ने बताया कि राजूराम की अगुवाई में आई जोधपुर पुलिस की दो सदस्यीय टीम गुरूवार दोपहर को ही चांदखेड़ा पहुंच गई थी। उसने आसाराम व उनके साधकों के विरूद्ध साबरमती, अडालज और चांदखेड़ा थाने में दर्ज आपराधिक मामलों का रिकॉर्ड संबंधित थानों से लिया। इसके चलते मोटेरा स्थित आश्रम में पहुंचने में देर रात हो गई।

गोहिल ने बताया कि जांच अधिकारी एसीपी चंचल कुमारी का पत्र लेकर यहां पहुंची इस टीम ने मोटेरा स्थित आश्रम से उनके देशभर में स्थित आश्रम, गुरूकुल, संचालित समितियों का व उनके पदाधिकारियों तथा साधकों का ब्यौरा लिया है। गोहिल ने किसी भी प्रकार की सीडी, क्लिपिंग या फिर शिवा को साथ में लेकर आने की बात से इनकार किया है।
रोचक खबरें फेसबुक पर ही पाने के लिए लाइक करें हमारा पेज -
अपने विचार पोस्ट करें

Comments
Top