Patrika Hindi News
UP Election 2017

Video Icon CBI ने शुरू की ट्रेन हादसों की जांच, आंतकी साजिश होने का किया इशारा

Updated: IST Train Accident
पिछले डेढ़ माह के दौरान दो बड़े ट्रेन हादसे के बाद कानपुर से रूरा, पुखरायां और फर्रूखाबाद रूट पर ट्रेन की पटरियां काटे जाने के साथ ही चटकने की जांच सीबीआई ने शुरू कर दी है।

कानपुर.पिछले डेढ़ माह के दौरान दो बड़े ट्रेन हादसे के बाद कानपुर से रूरा, पुखरायां और फर्रूखाबाद रूट पर ट्रेन की पटरियां काटे जाने के साथ ही चटकने की जांच सीबीआई ने शुरू कर दी है। मंधना में पटरी काटे जाने की जांच करने शुक्रवार सीबीसी के साथ सीबीआई की टीम कानपुर पहुंची। मौके पर पहुंचकर टीम ने ट्रैक के साथ दुर्घटनास्थल का मुआयना किया व रेलवे कर्मियों के बयान दर्ज किए। डीआईजी आरपीएफ राजाराम ने बताया कि जांच हर पहलू पर की जा रही है। मंधना ट्रैक काटने के पीछे आंतकी साजिश के बारे में उनका कहना था कि टीमें हर पहलुओं पर जांच कर रही है, जो भी इस साजिश में शामिल होगा उसे किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा।

पुखरायां व रूरा में एक्सप्रेस ट्रेनों के दुर्घटनाग्रस्त होने व मंधना के नारामऊ में बीते दिनों आरी से पटरी काटने का प्रयास किया गया था। इन सभी घटनाक्रमों को लेकर रेलवे मंत्रालय काफी गंभीर है। दुर्घटनाओं व पटरी काटे जाने के प्रकरण की जांच कर रहे रेलवे के मुख्य सरंक्षा आयुक्त पीके आचार्या व शैलेश कुमार पाठक कर रहे हैं। कानपुर परिक्षेत्र में बढ़ रही रेलवे घटनाएं व पटरी काटने के मामले में सीबीसी जांच के साथ शुक्रवार को प्रकरणों की जांच के लिए सीबीआई की टीम पहुंची। टीम के साथ डीआईजी रेलवे राजाराम के साथ आरपीएफ के आलाधिकारी मौजूद थे।

जुटाए साक्ष्य, होगा परीक्षण
टीम ने मंधना में नारामऊ के पास काटी गई पटरी स्थल का जायजा लिया। यहां पर पटरी काटने के समय ड्यूटी पर तैनात कर्मियों से पूछतांछ की और साक्ष्य जुटाएं। डीआईजी रेलवे ने बताया कि सभी प्रकरणों की जांच रेलवे की सीबीसी व सीबीआई की टीम करने आईं है। जांच में कई अहम सूबत मिले है। जिनकी भौतिक परीक्षण किया जा रहा है। पटरी काटने के मामले में आसपास के कई शरारती तत्वों पर इसको लेकर शक जताया जा रहा है। जिनका रिकार्ड खंगाला जा रहा है। वहीं रेल हादसों की जांच में सीबीआई को पटरियों से छेड़छाड़ के साथ ट्रैक चेकिंग में लगे कर्मियों की लापरवाही सामने आईं है। रेलवे आईजी के मुताबिक जल्द ही इन सभी प्रकरणों के दोषी व कारणों की रिपोर्ट आ जाएगी।
ट्रैक पर पाईं कई गड़बड़ी
डीआईजी रेलवे ने राजाराम ने बताया कि मंधना स्थित रेलवे ट्रैक को काटा गया था। जिसके प्रमाण मिले हैं। जीआरपी, आरपीएफ और सिविल पुलिस के साथ सीबीआई व एटीएस की टीमें मिलकर जांच पड़ताल कर रही हैं। शरारती तत्वों की पहचान करने के लिए ट्रैक पर मौजूद गार्ड अनिल से पूछताछ की जा रही है। जल्द ही ट्रैक को क्षतिग्रस्त करने वाले अरेस्ट कर जेल भेजे जाएंगे।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???