Patrika Hindi News

> > > > First Day Team India on backfoot, lost 9 wickets

पहले दिन इंडिया टीम बैकफूट पर, 9 विकेट गंवाए

Updated: IST VIRAT KOHLI
रवीन्द्र जेडजा और उमेश यादव ने अंत में संभलकर बैटिंग करते हुए 14 रन जोड कर क्रीज पर हैं। पहले दिन के मैच में भारत ने 291 रन ही बनाये और अपने 9 विकेट गवां दिए।

कानपुर. भारत को अभी भी बडे स्कोर की उम्मीद है क्योंकि क्रीज पर रेहित शर्मा (34) आर अश्विन (31) रन बनाकर मौजूद हैं। टीम इंडिया की इस पारी में चेतेश्वर पुजारा और मुरली विंजय ने शानदार बल्लेबाजी की। पुजारा ने (62) तो वहीं विजय ने (65) रनों की पारी खेली। विराट कोहली गुरूवार को क्रीच पर कुछ खास नहीं कर सके और मात्र (9) रन बनाकर नील बैग्नर का शिकार हो गये। लंच से पहले भारत का पहला विकेट लोकेश राहुल के रूप में गिर चुका था। इसके बाद पुजारा भी आउट हो गऐ। मुरली विजय ने अच्छी बल्लेबाजी करते हुए (65) रनो की शानदार पारी खेली।

भारतीय टीम के इस 500वें टेस्ट मैच का टॉस भारतीय कप्तान विराट कोहली ने जीता और पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया। शिखर धवन के स्थान पर टीम में शामिल किए गऐ लोकेश राहुल (32) रनो ने विजय के साथ पारी की शुरूआत की। राहुल ने ट्रेंट बाउल्ट द्वारा फेंके गये पहले ओवर में दो चौके लगाकर अच्छी शुरूआत की। दोनों बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए 42 रन जोड़े इस दौरान राहुल तेजी से रन बटोर रहे थे और विजय संयम से बल्लेबाजी कर रहे थे। कीवी टीम को पहली सफलता स्पिनर मिशेल सेंटनर ने दिलाई। उन्होंने 11वें ओवर में राहुल को विकेट के पीछे बीजे बाटलिंग के हाथों कैच करा मेजबानो को पहला झटका दिया। राहुल ने अपनी पारी में 39 गेंदों का सामना किया और चार चौके तथा एक छक्का लगाए। इसके बाद पुजारा ने विजय का साथ दिया। भारती टीम को बडा झटका उस समय लगा जब कप्तान विराट कोहली का विकेट गिरा। वह 9 रन बनाकर ही आउट हो गये। वैगनर की बॉल पर उन्हें ईश सोढी ने लपक लिया। उप कप्तान रहाणे भी कुछ खास नहीं कर सके और 18 के निजी स्कोर पर विकेट गंवा दिया। इसके बाद रिद्धिमान साहा भी पवेलियन लौट गये जो अपना खाता भी नहीं खोल सके। भारत का 9वां और आखिरी झटका मो शमी के रूप में लगा जब शमी भी बिना खाता खोले आउट हो गये। एक समय लग रहा था कि टीम इंडिया पहले दिन ही ऑलआउट हो जायेगी, लेकिन रवीन्द्र जेडजा और उमेश यादव ने अंत में संभलकर बैटिंग करते हुए 14 रन जोड कर क्रीज पर हैं। इस प्रकार पहले दिन के मैच में भारत ने 291 रन ही बनाये और अपने 9 विकेट गवां दिए।

12 पूर्व व 9 महिला कप्तानों का किया गया सम्मान

मैच से पहले ग्रीन पार्क स्टेडियम में वह ऐतिहासिक क्षण आया जिसे देख दर्शन झूम उठे। मैदान पर भारत के पूर्व 12 कप्तानों के साथ 9 महिला कप्तान उपस्थित थीं। इस अवसर पर मैच का उदघाटन उत्तर प्रदेश के राजयपाल राम नार्इक ने किया और भारतीय टीम के ऐतिहासिक 500वें टेस्ट के अवसर पर उन्होंने पूर्व कप्तानों को सम्मानित किया। राज्यपाल नार्इक ने भारत के पूर्व कप्तानों को विशेष स्मृति चिन्ह और शाल देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर उनके साथ भारतीय क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष अनुराग ठाकुर और उत्तर प्रदेश क्रिकेट संघ के निदेशक व आईपीएल अध्यक्ष राजीव शुक्ला भी मौजूद रहे। राज्यपाल ने कपिल देव, मोहम्मद अजहरूददीन, के श्रीकांत, सुनील गवास्कर, सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, अनिल कुंबले, रवि शास्त्री, दिलीप वेंगसरकर और महेन्द्र सिंह धोनी को सम्मानि किया। इन पूर्व कप्तानों के सम्मान में यूपीसीए ने बुधवार रात डिनर का भी आयोजन किया था, जिसमें इन खिलाडियों के साथ न्यूजीलैंड की टीम भी शामिल थी।

ग्रीन पार्क के बाहर उड़ी के शहीदों को दी गयी श्रद्धांजलि

कानपुर के ग्रीन पार्क स्टेडियम में जहां 500वां ऐतिहासिक टेस्ट मैच शुरू होने जा रहा था, ऐसे में स्टेडियम के बाहर उड़ी में शहीद हुए सेना के जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की गयी। कार्यक्रम का आयोजन ज्ञानेश मिश्रा द्वारा किया गया। इस अवसर पर मैच देखने आने वाले दर्शकों ने भी सभा में शामिल होकर शहीदों को नमन किया तथा श्रद्धासुमन अर्पित किया। श्रृद्धाजंलि देने वालों में महिलाएं, युवतियां व बच्चे भी शामिल रहे।

54 टेस्ट मैच में भारत का पलड़ा रहा भारी

रिकार्ड बताते हैं कि अभी तक भारत और न्यूजीलैंड के बीच कुल 54 टेस्ट मैच हो चुके हैं जिसमें टीम इंडिया का ही पलड़ा भारी रहा है। 54 में से भारत को 18, जबकि न्यूजीलैंड को 10 टेस्ट मैचों में जीत मिली है। 26 मैच अभी तक ड्रा रहे हैं। दोनों देशों के बीच आखिरी टेस्ट सीरीज 2013-14 में न्यूजीलैंड में हुई थी जहां कीवी टीम ने यह सीरीज 1-0 से जीता था। वहीं नयूजीलैंड के खिलाफ भारत में खेलते हुए टीम इंडिया ने 2012 में 2-0 से टेस्ट सीरीज में जीत दर्ज की थी।

भटके मेहमानों को पुलिस ने पहुंचाया होटल

होटल का रास्ता भूले विदेशी मेहमानों को पुलिस द्वारा होटल पहुंचाया गया। ग्रीनपर्का में हो रहे मैच को देखने के लिए न्यूजीलैंड से आया क्रिकेट प्रेमी बुधवार देर रात अपने बुक कराये होटल की तलाश में भटक रहा था, जिसे कुछ युवक अपने साथ रात्रि 2 बजे लिय इधर-उधर घूम रहे थे। इसी बीच फूलबाग चौकी इंचार्ज दयाराम की निगाह विदेशी पर पड़ी तो वह उनके पास गये। विदेशी के पास सामान बैग वगैरह देख और उसको लड़कों के साथ घूमते देख रोकर कारण पूछा तो उन्हें पता चला कि विदेशी अपना बुक कराया होटल ढूढ़ रहा है। दयाराम ने अपनी गाड़ी पर बैठाकर विदेशी को होटल पहुंचाया। इस सराहनीय कार्य के साथ दयाराम ने विदेशी पर्यटक के साथ किसी अप्रिय घटना को नहीं होने दिया तो वहीं दूसरी ओर कानपुर पुलिस की सजगता का भी परिचय दिया।

युवा हुए क्रेजी

क्रिकेट का बुखार कुछ इस प्रकार युवाओं पर चढ़ा की मैच के पहले दिन सुबह 5 बजे से ही युवक और युवतियां ग्रीन पार्क की ओर चल पड़े। रास्ते में भारत विजय के नारे लगाते हाथों में झण्डा, बैनर, स्टीकर, टोपी आदि सज्जा का सामान लिय जोश से लबरेज दिखे। वहीं लोग अपने चेहरे और हाथों पर पेंटिग भी कराते रहे। जिसे जहां मौका मिला वहां अपनी सेल्फी लेता दिखाई पड़ रहा था। कोई धोनी तो कोई विराट की टीशर्ट ले रहा था तो कोई इण्डिया के टीम की ड्रेस पहने हुए था।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे