Patrika Hindi News

Video Icon 'न खाने को देते थे न पीने को', सात दिनों तक लगातार चार सगे भाइयों ने किया दुष्कर्म

Updated: IST Kanpur
'न खाने को देते थे न पीने को', सात दिनों तक लगातार चार सगे भाइयों ने किया दुष्कर्म

कानपुर देहात. एक के बाद एक जिले में महिलाओं के साथ होने वाली घटनाओं में इजाफा होता जा रहा है उधर शासन सुरक्षा के दावे भी कर रहा है तो इधर पुलिस भी अपनी सक्रियता के दावे ठोंक रही है तो आखिर फिर इस 16 वर्षीय मासूम का कसूर क्या था जो अपने अरमानों को सात दिन तक एक बंद कमरे में उजड़ते हुये देखती रह गयी और दरिंदे नोंचते रहे।

दरअसल उत्तर प्रदेश में अपराध थमने का नाम नहीं ले रहा है। दबंगों के हौसले लगातार बुलंद होते जा रहे है। ये दर्दनाक मामला कानपुर देहात के अकबरपुर थाना क्षेत्र के बुदिया गांव का है, जहां पर शौच के लिए गई किशोरी को बंधक बनाकर चार सगे भाइयों ने सात दिनों तक उसे बारी बारी से अपनी हवस का शिकार बनाया और उस लाचार की सिसकारियां बंद कमरे में गूंजकर रह गयी। ऐसी हैवानियत की दर्दनाक दास्तां सामने आई है, जिसे सुनकर लोगों के होश उड़ गये।

3 जुलाई को वहशी दरिन्दे शौच के लिए गई किशोरी को चार सगे भाइयों ने जबरन बन्धक बनाकर अपने दोस्त के घर सुजानपुर कानपुर
उठा ले गये, जिसके बाद सभी ने बारी- बारी से सात दिन तक उसके साथ बलात्कार किय। आठवें दिन गांव के ही नहर किनारे चारों युवक किशोरी को फेंक कर चले गये है। घटना की जानकारी पुलिस को लगते ही पुलिस हरकत में आई और तब तीन लोगों को गिरफ़्तार किया। जिसमें अभी भी एक आरोपी और उसका दोस्त पुलिस की गिरफ्त से दूर है।

क्या है पूरा मामला जानिए

कानपुर देहात के अकबरपुर थाना क्षेत्र के बुदिया गांव का मामला है, गांव की किशोरी तीन जुलाई को सुबह पांच बजे शौच के लिये गयी थी। तभी गांव के रोहित, कन्हई, गुड्डू, आनंद ने किशोरी को जबरन उठा लिया और हवस का चोला ओढ़े चारों भाई किशोरी को लेकर अपने एक दोस्त के घर-घर कानपुर सुजानपुर पहुंच गये। जहां उन्होंने दोस्त को सारी बात बताकर उसे एक कमरे में बंधक बना लिया।इधर पीड़ित के पिता अपनी लड़की की गुमशुदा की रिपोर्ट लिखाने को गए तो पुलिस भी टरकाने लगी और जब ज्यादा दबाब बना तो दो दिन बाद आज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट लिखी गयी और एक दिन जब शाम को लड़की को दरिंदे गांव के बाहर फेंक गए।

लड़की को बदहवास अवस्था में पड़ा देख ग्रामीण सन्न रह गये

तब गांव के लोग लड़की की हालत देख दंग रह गए और लड़की के परिवार को सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने लड़की से गुमशुदगी की बात पूछी तो उसकी कहानी सुन कर पूरा परिवार दंग रह गया। पीड़िता ने बताया की गांव के ही चार लोग है, जिन्होंने मुझे सुबह के समय पीछे से मुंह पर कपड़ा लगाकर बेहोश कर दिया और मुझे एक सुनसान कमरे में ले गए। जहां मेरे साथ बारी बारी चारों भाईयो और
उसके दोस्त ने बलात्कार किया। वह न खाने को देते थे और कुछ बोलने देते थे, धमकी देते थे कि ये सब बाते किसी को नहीं बताओगे नहीं तो जान से मार देंगे। वही पुलिस नें दो आरोपियों सहित उसके पिता को गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन अभी भी तीन लोग फरार है। पर इस वारदात के बाद पीड़ित परिवार सहित पूरे गांव में दहशत का माहौल व्याप्त है।

ग्रामीणों में दहशत व्याप्त

इस दर्दनाक घटना के बाद दबंगों की पीड़िता के परिवार को लगातार धमकी मिलने से परिवार डरा और सहमा है, लगातार दबगों की ओर से पीङित परिवार को जान से मार ने की धमकी मिल रही है। जिसके चलते गांव के ग्रामीण सहयोग में उतर आये है। ग्रामीण खुद ही गलियों मे घूमकर अपनी सुरक्षा कर रहे है और पीड़ित परिवार की सुरक्षा के लिये उसके घर पर पूरी नजर बनाए हुये है और उनके
सहयोग के लिये तत्पर हो गये है।

मामले में पुलिस का कहना है कि पांच में से तीन आरोपियों को हिरासत में ले लिया गया है और बचे हुये अभियुक्तों की तलाश जारी है। पीड़ित परिवार के सुरक्षा के लिए पुलिस प्रोटेक्सन की बात कही है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???