Patrika Hindi News
UP Election 2017

इस हादसे के बाद सेक्टर मजिस्ट्रेट को ग्रामीणों ने धुना, पुलिस ने बचाई जान

Updated: IST kanpur dehat
चुनावी विगुल बजते ही प्रदेश में प्रशासनिक व्यवस्था चाक चौबंद हो चुकी है

कानपुर देहात. चुनावी विगुल बजते ही प्रदेश में प्रशासनिक व्यवस्था चाक चौबंद हो चुकी है। जिलों के जिलाधिकारी से लेकर सभी सरकारी महकमे के अफसर अपने अपने क्षेत्रों में भ्रमण कर रहे है। इस दौरान बिठूर विधानसभा के चुनाव में बनाये गये सेक्टर मजिस्ट्रेट व उनके चालक को क्षेत्र का भ्रमण महंगा पड़ गया। मामला जनपद के शिवली क्षेत्र के नयापुरवा गांव के सामने बेला कानपुर मार्ग का है। नया पुरवा गांव के सामने विधानसभा चुनाव के लिये बने सेक्टर मजिस्ट्रेट की कार की चपेट में आकर एक साइकिल सवार घायल हो गया। उत्तेजित ग्रामीणों ने एकजुट होकर कार चालक व सेक्टर मजिस्ट्रेट की पिटाई कर दी। घटना की सूचना पाकर तत्काल पहुंचे शिवली कोतवाल ने गुस्साई भीड़ के चंगुल से सेक्टर मजिस्ट्रेट व चालक को बचाया। जिसके बाद कार को कब्जे में लेकर घायल साइकिल सवार को अस्पताल में भर्ती कराया है।

कानपुर नगर की विधानसभा बिठूर के चुनाव में सेक्टर नम्बर 123 के लिये लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता रामवचन को सेक्टर मजिस्ट्रेट बनाया गया हैै। जिसके चलते वह चालक मोतीलाल के साथ क्षेत्र भ्रमण पर निकले थे। तभी कानपुर बेला मार्ग पर स्थित नयापुरवा गांव के सामने कार की चपेट में आकर साइकिल सवार रामपाल गम्भीर रूप से घायल हो गया। घटना को देख ग्रामीण एकत्रित हो गये और चालक को कार से निकालकर मारना पीटना शुरू कर दिया। चालक को पिटता देख सेक्टर मजिस्ट्रेट ने बचाने का प्रयास किया। जिस पर गुस्साये ग्रामीणों का कहर सेक्टर मजिस्ट्रेट पर भी टूट पड़ा और ग्रामीणों ने सेक्टर मजिस्ट्रेट रामवचन की भी पिटाई कर दी। घटना की जानकारी मिलते ही आनन फानन में पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे शिवली कोतवाल शैलेंद्र सिंह ने भीड़ से चालक व सेक्टर मजिस्ट्रेट को बचाया। जिसके बाद घायल रामपाल को सीएचसी भिजवाया। जहां मौजूद फार्मासिस्ट ने उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया। शिवली कोतवाल शैलेंद्र सिंह ने बताया कि कार कब्जे में लेकर छानबीन की जा रही है। तहरीर मिलने पर कार्यवाही की जायेगी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
'
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???