Patrika Hindi News

> > > > Women alongwith Karwa chauth pledges to give votes in election

UP Election 2017

करवाचौथ में महिलाओं की नयी पहल, व्रत के साथ लिया मतदान का संकल्प

Updated: IST Pledge
करवाचौथ के पर्व जहाँ महिलायें निर्जला व्रत को रख घर के कामकाज में व्यस्त रही। वहीं जनपद के अकबरपुर में समाज सेविका कंचन मिश्रा ने मतदाता शपथ एवं जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया.

अरविन्द वर्मा.
कानपुर देहात. करवाचौथ के पर्व जहाँ महिलायें निर्जला व्रत को रख घर के कामकाज में व्यस्त रही। वहीं जनपद के अकबरपुर में समाज सेविका कंचन मिश्रा ने मतदाता शपथ एवं जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया। जिसमें क्षेत्र की महिलाओं ने कार्यक्रम में हिस्सा लिया। इस अवसर पर नायाब तहसीलदार अर्चना पांडेय ने उपस्थित होकर महिलाओं को मतदान के कारण व महत्व समझाए कि शत प्रतिशत मतदान करने से लोगों में एक अच्छे शासक चुनने की जागरूकता आती है। जिससे एक अच्छे समाज की कामना की जा सकती है। जब एक अच्छा शासक देश, प्रदेश या गांव का संचालन करता है। तो विकास सहित एक अच्छे राष्ट्र का जन्म होता है। इसलिए हम सबकी ये जिम्मेदारी है कि आज इस मौके पर संकल्पित होकर प्रण करें कि मतदान जरूर करेंगे। जिन लोगों के नाम मतदाता सूची में नही है उनको पंजीकृत करायें। इसके साथ ही अपनी अन्य बहनों को यह संदेश देते हुये उन्हें जागरूक करेंगे। ताकि मतदान के क्षेत्र में एक नया आयाम मिले और शिक्षा का उद्देश्य पूरा हो।

शपथ के बाद करवा स्पेशल मे महिलाओं को करवा भेंट किये गये
कार्यक्रम में राजस्व कॉलोनी की करीब एक सैकड़ा महिलाओं ने भागीदारी की। जहाँ अखिल भारतीय दुर्गा परिषद की राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं समाज सेविका कंचन मिश्रा ने महिलाओं से कहा कि आज करवाचैथ का दिन है। जो महिलाओं के लिये सबसे बड़ा पर्व माना जाता है। आज व्रत के साथ हमें मतदान करने का संकल्प लेते हुये इस जागरूकता अभियान को सफल बनाना है। क्योकि शत प्रतिशत मतदान होने पर एक अच्छे शासक के साथ महिलाओं में जागरूकता भी आयेगी। इस उद्देश्य को पूरा करना हम सबका दायित्व है। जिसके बाद नायाब तहसीलदार अर्चना पांडेय ने उपस्थित महिलाओं विनीता, सुषमा, अंजू, ज्योति, सुनीता सहित सभी महिलाओं को करवा स्पेशल डे पर करवा भेंट किया। महिलाओं ने करवा हाँथ में लेकर संकल्प लिया। उन्होंने कहा मतदान हमारा अधिकार भी है और फर्ज भी है।

नायाब तहसीलदार ने कहा कि आज करवाचौथ पर महिलाओं ने जो संकल्प लिया है ऐसे ही सभी की जिम्मेदारी बनती है। इस जिम्मेदारी को मिलजुल कर पूरा करें। इस अभियान को अभी और आगे बढाना है। आगे भी ऐसे जागरूकता कार्यक्रम किये जायेंगे।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???