Patrika Hindi News

टीबी रोगियों की खोज के लिए सर्च अभियान चलाया जाएगा: विज

Updated: IST anil vij
पायलट प्रोजैक्ट के आधार पर तीन चरणों में क्षय (टीबी) रोगियों की खोज के लिए सर्च अभियान चलाया जाएगा

चंडीगढ़। हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि राज्य के तीन जिलों कैथल, करनाल तथा मेवात में पायलट प्रोजैक्ट के आधार पर तीन चरणों में क्षय (टीबी) रोगियों की खोज के लिए सर्च अभियान चलाया जाएगा। इसका पहला चरण 16 से 30 जनवरी तक होगा।

विज ने बताया कि टीबी को जड़ से नष्ट करने के लिए केन्द्र सरकार ने देश के 50 जिलों में यह कार्यक्रम शुरू किया है, जिनमें हरियाणा के भी उक्त जिलों को शामिल किया गया हैं। उन्होंने बताया कि केन्द्र सरकार के संशोधित राष्ट्रीय क्षय रोग नियन्त्रण कार्यक्रम (आरएनटीसीपी) के तहत इसका दूसरा चरण 17 से 31 जुलाई तथा तीसरा चरण 4 से 18 दिसंबर तक चलाया जाएगा, जिसमें टीबी के मरीजों को ढूंढने का कार्य किया जाएगा।

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया अभियान का उद्देश्य टीबी ट्रांसमिशन को रोकते हुए टीबी मुक्त भारत बनाना होगा। इसके लिए उक्त तीनों जिलों में टीबी के मरीजों की पहचान के लिए चयनित एवं निर्धारित क्षेत्रों की झुग्गियों, छोटी बस्तियों, जेल, अनाथ आश्रम, निर्माणाधीन क्षेत्र, नाइट शैल्टर और वृद्धाश्रम में रहने वाले लोगों व असहाय बच्चों की भी जांच की जाएगी। इसके पश्चात, ऐसे मरीजों को समुचित जांच एवं उपचार के लिए अस्पतालों में भेजा जाएगा।

विज ने बताया कि अभियान को सफल बनाने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी जिलों में प्रशिक्षित टीमों का गठन किया गया है। ये टीम ऐसे मरीजों को चयन करेंगी, जिन्हें लम्बी अवधि की खांसी, बुखार, वजन का घटना, बलगम में खुन आना, छाती का दर्द तथा अन्य सम्भावित लक्षण पाये जाएंगे। ऐसे मरीजों की जांच के बाद उन्हें समुचित उपचार नि:शुल्क उपलब्ध करवाया जाएगा।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???