Patrika Hindi News

Photo Icon अधिक वर्कलोड दिए जाने सहित 40 मांगों को लेकर ओएफके कर्मियों ने ठानी हड़ताल

Updated: IST OFK and contract health workers on strike
आयुध निर्माण मुख्य गेट के सामने कर रहे प्रदर्शन, संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी भी बैठे धरने पर

कटनी। 2017-18 में अधिक से अधिक वर्कलोड सहित 40 सूत्रीय मांगों को लेकर आयुध निर्माणी कर्मियों ने हड़ताल ठान दी है। ओएफके कर्मियों के हड़ताल पर जाने से जहां निर्माण का काम प्रभावित हो रहा है तो वहीं संविदा स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा मांगों को लेकर कलेक्ट्रेट के समाने किए जा रहे धरना प्रदर्शन से स्वास्थ्य विभाग पर भी विपरीत असर पड़ रहा है। अस्पतालों में कर्मचारियों की कमी के चलते मरीजों और उनके परिजनों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ओएफके कर्मियों का कहना है कि जबतक उनकी 40 मांगों पर प्रबंधन विचार नहीं करता तबतक वे हड़ताल पर रहेंगे।

यह है कर्मचारियों का आरोप
आयुध निर्माणी कटनी की स्थानीय समस्याओं को लेकर कर्मचारी हड़ताल पर हैं। वर्क लोड श्रमिक कल्याण गतिविधियां निर्माणी के अधिकारियों द्वारा भ्रष्टाचार, गुणवत्ताविहीन मटेरिय की सप्लाई होने जैसा आरोप मढ़ा है। कर्मचारियों की मांग कि निर्माणी में अधिक से अधिक 2017-18 का वर्कलोड दिया जाए। एचसीसी सेक्शन में ओल्ड हैंडिंग प्रेस जो 6 माह से बंद पड़ा है उसे चालू किया जाए। बोर्ड द्वारा निर्माणी कर्मचारियों के जो स्वीकृत पद हैं वे भरे जाएं। अनुकम्पा नियुक्ति सहित अन्य मांगों को लेकर हड़ताल पर हैं। उक्त जानकारी ओएफके प्रतिरक्षा मजदूर संघ के महामंत्री ज्ञानचंद्र ने जानकारी दी है।

OFK and contract health workers on strike

स्वास्थ्य सेवाएं ठप
कई मांगों को लेकर कटनी के सविदा स्वास्थ कर्मचारी भी हड़ताल पर हैं। गुरुवार को कलेक्टर कार्यालय के सामने धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। स्वास्थ्य कर्मियों ने अप्रेजल जैसी कठिन प्रक्रिया, 17 पद अप्रेजल के कारण निष्कासित साथियों की सेवा बहाली, समान कार्य समान वेतन, नियमितिकरण, 6 सूत्रीय लंबित मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। कर्मचारियों की हड़ताल से जिले की स्वास्थ्य सुविधा पर विपरीत असर पड़ा है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???