Patrika Hindi News

दोपहर 3 बजे आग उगलता है सूरज, 47 डिग्री पर पहुंचता है पारा, पिघलने लगी सड़क

Updated: IST The fire rises at 3 o
मध्यप्रदेश के जिला खंडवा में भी भारी गर्मी पड़ रही है, इस दरौर यहां ओरेंज अलर्ट जारी कर दिया गया है। सुबह 8 बजे से लेकर शाम 7 बजे तक 2-2 डिग्री पारा बढ़ता है और दोपहर 3 बजे यह 47 डिग्री तक पहुंच जाता है...

खंडवा. इस साल गर्मी अप्रैल से ही झुलसा रही है। पिछले साल 16 अप्रैल को 40.1 डिग्री तापमान दर्ज हुआ था जबकि इस बार का सबसे अधिक पारा अभी से 43.5 डिग्री के पार हो चुका है। मौसम वैज्ञानिक पश्चिमी हवा व खुला मौसम इसके लिए जिम्मेदार मान रहे हैं।

वैज्ञानिकों का कहना है कि इस बार अप्रैल में और अधिक गर्मी और बढ़ेगी और कई वर्षों का रिकार्ड अप्रैल में ही टूट जाएगा। रविवार को दिनभर गर्म हवा व तल्ख धूप ने बेचैन किया। इसको देखते हुए सुबह से ही तापमान लेना शुरू किया तो देखा कि दिन में तपन इतनी थी कि हर दो घंटे में तापमान 2-2 डिग्री बढ़ता रहा था। शाम को घटा 1-1 डिग्री तापमान। रविवार को दोपहर में तापमान 47.0 डिग्री पर पहुंच गया।

पिछले वर्ष मई में हुआ था 43 डिग्री

2016 में 29 मई को अधिकतम तापमान 43 डिग्री दर्ज हुआ था। इस बार 16 अप्रैल को ही यह स्थिति बन गई। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 42.5 डिग्री को छू गया। जबकि पिछले साल 42.5 डिग्री तापमान 28 अप्रैल को रहा था। इस बार पिछले साल की तुलना में 18 दिन पहले ही पिछले साल की बराबरी गर्मी ने कर ली है। 2016 में अप्रैल माह का अधिक तापमान ही 42.5 डिग्री था।

ऐसे पड़ता है गर्मी का असर

-मानव का शरीर 37 डिग्री या 96.6 डिग्री फेरनहाइट पर ठीक काम करता है। आसपास का तापमान 45 डिग्री होने पर प्रतिक्रिया शरीर पर होती है।

- शरीर गर्म होने पर पसीना निकलता है। लू की शुरुआत सिरदर्द से होती है। इससे इंसान को तत्काल सतर्क होना चाहिए।

- यह स्थिति तापमान 40 डिग्री होने के बाद बगैर रुके गर्म परिस्थिति में काम करने पर बनती है। इसके लिए ज्यादा पानी पीना व दोपहर में गर्म हवा से बचना मुख्य उपाय है।

The fire rises at 3 o

ऐसे बढ़ा-घटा तापमान

समय ताप

सुबह 6 बजे 28.0

सुबह 7 बजे 31.0

सुबह 8 बजे 33.0

सुबह 9 बजे 36.0

सुबह 10 बजे 38.0

सुबह 11 बजे 40.0

दोपहर 12 बजे 42.0

दोपहर 1 बजे 43.5

दोपहर 2 बजे 45.5

दोपहर 3 बजे 47.0

दोपहर 4 बजे 45.0

शाम 5 बजे 43.5

शाम 6 बजे 38.0

शाम 7 बजे 37.0

2016 की 19 मई सबसे गमर्

2016 में सबसे ज्यादा 44.5 डिग्री तापमान 20 मई को था। अप्रैल में इस बार जिस तरह गर्मी में इजाफा हो रहा है उससे मौसम वैज्ञानिक भी हैरान हैं। मौसम वैज्ञानिक डॉ अश्विन कश्यपी ने बताया अप्रैल और मई का तापमान ज्यादा होना वैज्ञानिक नजरिए से अच्छा होता है। औसत तापमान में इस बार अप्रैल का तापमान कुछ ज्यादा ही तेजी से आगे बढ़ रहा है। ऐसे में रोहिणी व नवतपा में तापमान पिछले वर्षों की तुलना में ज्यादा होने की संभावना है।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???