Patrika Hindi News

अवैध पार्किंग हुई तो जुर्माना देंगी को-ऑपरेटिव

Updated: IST kolkata news
कोलकाता नगर निगम अवैध पार्र्किंग के लिए को-ऑपरेटिव संस्थाओं को जिम्मेदार मान रहा है। निगम ने सभी को-ऑपरेटिव सोसाइटी से साफ कर दिया कि उनके इलाके में अवैध पार्र्किंग की जिम्मेदारी उन्हें ही लेनी पड़ेगी

कोलकाता. कोलकाता नगर निगम अवैध पार्र्किंग के लिए को-ऑपरेटिव संस्थाओं को जिम्मेदार मान रहा है। निगम ने सभी को-ऑपरेटिव सोसाइटी से साफ कर दिया कि उनके इलाके में अवैध पार्र्किंग की जिम्मेदारी उन्हें ही लेनी पड़ेगी। अवैध पार्र्किंग का जुर्माना कोआपरेटिव से ही वसूला जाएगा।

निगम ने तय किया है कि औचक निरीक्षण में आवंटित पार्र्किंग में अधिक संख्या में गाडिय़ां पार्क मिली तो उस क्षेत्र की को ऑपरेटिव संस्था पर जुर्माना लगाया जाएगा। उनसे ऑन स्पॉट जुर्माना वसूला जाएगा। महानगर में 32 से अधिक को ऑपरेटिव व 70 से अधिक पार्र्किंग जोन है। कई क्षेत्रों में अवैध पार्र्किंग की समस्या है।

कोऑपरेटिव तय सीमा से अधिक पार्र्किंग शुल्क भी वसुलते हंै। धर्मतल्ला में एक घंटे के लिए 10 रुपए की बजाए 50 से 100 रुपए तक का शुल्क वसूला जाता है। तय संख्या से ज्यादा गाडिय़ां पार्क कराई जाती हैं। मेयर परिषद के सदस्य देवाशीष कुमार ने बताया कि महानगर में अवैध पार्र्किंग की शिकायतें मिल रही हैं। निगम उन शिकायतों के आधार पर ही कार्रवाई करेगा।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???