Patrika Hindi News

> > > > Now children trafficked from hospital!

अब सरकारी अस्पताल से बच्चों की तस्करी!

Updated: IST kolkata news
पश्चिम बंगाल में अब सरकारी अस्पताल में बच्चों की तस्करी की सनसनीखेज घटना सामने आई है। मिदनापुर जिला अस्पताल की एक आया को नवजात की तस्करी करते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है

कोलकाता. पश्चिम बंगाल में अब सरकारी अस्पताल में बच्चों की तस्करी की सनसनीखेज घटना सामने आई है। मिदनापुर जिला अस्पताल की एक आया को नवजात की तस्करी करते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। घटना के संबंध में उसके पति को भी गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार आया का नाम शिवानी दंडपात और उसके पति का नाम उत्तम दंडपात है। दोनों से पूछताछ की जा रही है।

जिला पुलिस को खबर मिली थी कि मिदनापुर सरकारी अस्पताल की आया शिवानी के पास एक नवजात है। वह नवजात को बेचने का प्रयास कर रही है। सूचना पर कार्रवाई करते हुए पुलिस की टीम खरीदार बन कर शिवानी से मिली। शिवानी 5 हजार रुपए में नवजात को बेचने को तैयार हो गई। सौदा तय हो गया। जैसे ही शिवानी और उसका पति उत्तम नवजात को लेकर आया खरीदार के रूप में पुलिस वालों ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया।

जिला पुलिस अधीक्षक भारती घोष ने बताया कि प्राथमिक पूछताछ में दोनों ने बताया कि शनिवार को कविता दंडपात नामक महिला को पुत्री हुई थी। यह उसकी तीसरी पुत्री थी। आर्थिक तंगी से परेशान कविता ने बच्ची को उसे सौंपते हुए कहा कि वह इसका भरण-पोषण करने में असमर्थ है। पुलिस कविता और उसके पति से भी पूछताछ कर रही है।

इधर नवजात तस्करी काण्ड की जांच कर रही सीआईडी को भी घटना की जानकारी दे दी गई है। सीआईडी की टीम भी पहुंचा गई है। शिवानी और उत्तम के बादुडिय़ा, कोलकाता तथा दक्षिण 24 परगना जिले से नवजात तस्करी के आरोप में पकड़े गए लोगों से कोई संबंध हैं अथवा नहीं, छानबीन की जा रही है।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

More From Kolkata
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???