Patrika Hindi News

> > > > Kondgaon : Date on the Date giving health department to mothers, many times in two years, bounced checks

तारीख पे तारीख दे रहा स्वास्थ्य विभाग जननीयो को, दो साल में कई दफे चैक हुए बाउंस

Updated: IST check bounced
जननी सुरक्षा योजना के तहत माताओं को दिए जाने वाले प्रोत्साहन राशि का चेक कई दफे हुआ बाउंस, शिकायत पर कार्रवाई की बजाय चेक पर आगे का दिनांक लिखकर किया जा रहा गुमराह

फरसगांव. जननीयो को परेशान करने का नया तरीका आखिरकार एक सरकारी विभाग ने खोज ही लिया है। जहां जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत माताओ को मिलने वाली सहायता राशि में जमकर गड़बड़़झाला सामने आया है।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र फरसगांव और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बडेडोंगर में जननी सुरक्षा योजना के तहत माताओ को दी जाने वाली प्रोत्साहित राशि का चेक कई दफे बाउंस हो रही है।

जिसके चलते हितग्राही परेशान हो चले है जब शिकायत लेकर केंद्र मे जाते है तो उसी चेक में बार-बार आगे की दिनांक प्रभारी द्वारा लिख कर गुमराह किया जा रहा है जबकि चेक तो लगभग 2 वर्ष पुरानी है। लोग विभाग की लापरवाही के चलते अब बैक में पैसा लेने जाना ही छोड़ दिए हैं।

हितग्राहियो ने बताया चौकाने वाली बात-

हितग्राहियो ने कई चौकाने वाले तथ्य टीम के सामने रखे। हितग्राही धनबति सोरी पति सोमारू निवासी डिगानार को 19 सितंबर 2015 को चेक दिया गया था जो बाउंस होने पर उसी चेक पर 4 दिसबंर 2015 का तिथि लिख दिया गया। इसके बाद भी यह चेक बाउंस हो गया फिर प्रभारी द्वारा 15 मार्च 2016 का दिनंाक उसी चेक में सुधार करते हुए लिखा गया।

इसके बाद भी राशि के आहरण नही होने से लोगो के मन से अब सरकारी योजनाओ के प्रति रुझान भी कम होने लगा है। इसी तरह देवन्तिन पति लछन निवासी भूमका को 19 सितबंर 2015 का चेक बाउंस होने पर 26 फरवरी 2016 का दिनांक सुधार किया गया इसके बाद भी यह बाउंस हो गया।

आयति मरकाम पति चैतू व अनीता पति दिनेश मंडागांव उरदाबेड़ा, रमशीला बनगोलि, सोनई बाई कोरई एवं कौशलिया बडग़ोलि व पुनीता बाई परोडा, सरिता कोणगुड और सनबति नाग कुलानार सहित कई जननीयो का चेक बाउस हो गया। सालभर से विभाग के चक्कर काटते सरकारी मिलने वाली राशि से कही अधिक हितग्राहियो का खर्च हो चुका है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???