Patrika Hindi News

> > > > Kondgaon : Two prize Maoists surrender Before CRPF Including Women

सीआरपीएफ के समक्ष महिला समेत दो इनामी नक्सलियों ने किया समर्पण

Updated: IST two naxli surrender
सीआरपीएफ 188वीं बटालियन हैड क्चार्टर चिखलपुटी में दो नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया। आत्मसमपर्ण करने वालों में एक महिला भी शामिल है।

कोण्डागांव. सीआरपीएफ 188वीं बटालियन हैड क्चार्टर चिखलपुटी में मंगलवार को दो नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया। आत्मसमपर्ण करने वालों में एक महिला भी शामिल है।

दोनों पर शासन ने पांच और दो हजार रुपए का ईनाम घोषित कर रखा था। मंगलवार को दोनों ने नक्सलवाद छोड़ विकास की राह अपनाने की ईच्छा जाहिर करते हुए सीआरपीएफ 188वीं बटालियन के कमाण्डेंट कवीन्द्र कुमार चंद के पास पहुंचे और समाज की मुख्यधारा में लौटने की बात कहते हथियार डाल दिए।

इस दौरान जिला प्रशासन से अपर कलेक्टर निर्मल तिग्गा भी यहां मौजूद थे। उन्होंनें दोनों समपर्ण करने वाले नक्सलियों को प्रोत्सयाहन राशि प्रदान किया।

कमाण्डेंट कवीन्द्र चंद ने बताया कि सुरक्षा बलों के लगातार दबाव और नक्सली जीवन शैली से त्रस्त होकर नारायणपुर, कोण्डागांव और कांकेर जिला में सक्रिय इनामी नक्सलियों ने आज समर्पण किया है।

समर्पित नक्सलियों में नक्सली संगठन के जनमलेशिया सदस्य सुनिता 22 पिता टांगरा उर्फ बुधराम और नक्सली संगठन किसकोडो के एलजीएस का सदस्य फूल सिंह 26 पिता सोमीराम शामिल हैं। सुनिता पर पांच हजार रुपए और फूलसिंह पर दो हजार रुपए का शासन ने घोषित कर रखा था।

समर्पित नक्सलियों ने बताया, डरा-धमकाकर शामिल किया था संगठन में

आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों ने बताया कि नक्सली कमाण्डर कमलेश किसकोडो एलओएस कमाण्डर और सरिता उसे डरा.धमकाकर अपने साथ ले गए थे और नक्सल संगठन में शामिल कर लिया।

संगठन में शामिल होने के बाद हमने पुलिस व सरकार को नुकसान पहुंचाने के लिए कई घटनाओं को अंजाम दिया है। लेकिन संगठन से जुड़े रहने के बाबजूद वह नक्सलियों की विचारधारा से त्रस्त थे।

इससे तंग आकर हमने समाज की मुख्यधारा से जुडऩे के लिए सीआरपीएफ के समक्ष उपस्थित होने का निर्णय लिया और अब आम लोगों की तरह जीवन जीते हुए देश और समाज के लिए कुछ करना चाहते है।

इस दौरान 188 बटालियन सीआरपीएफ कमाण्डेंट कवीन्द्र कुमार चंदए उप कमाण्डेंट यशवंत सिंह राजपूत, सहायक कमाण्डेंट आर कार्तिकेयन आदि मौजूद थे।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???