Patrika Hindi News

जिले के अधिवक्ता रहे हड़ताल पर, कामकाज रहा ठप

Updated: IST District Advocate on strike, work was stalled
राष्ट्रीय लॉ कमीशन के चेयरमेन को बर्खास्त करने एवं अधिवक्ता अधिनियम संशोधन के विरोध में शुक्रवार को जिले के वकील हड़ताल पर रहे। इनके द्वारा कोई कार्य संपादित नहीं कराया गया। जिला एवं सत्र न्यायालय परिसर से कलेक्टोरेट तक रैली निकाली गई तथा एडीएम गजेंद्र सिंह ठाकुर को ज्ञापन सौंपा। इसी तरह कटघोरा में भी अधिवक्ता हड़ताल पर रहे एवं रैली निकालकर विरोध प्रदर्शन किया।

कोरबा/कटघोरा. राष्ट्रीय लॉ कमीशन के चेयरमेन को बर्खास्त करने एवं अधिवक्ता अधिनियम संशोधन के विरोध में शुक्रवार को जिले के वकील हड़ताल पर रहे। इनके द्वारा कोई कार्य संपादित नहीं कराया गया। जिला एवं सत्र न्यायालय परिसर से कलेक्टोरेट तक रैली निकाली गई तथा एडीएम गजेंद्र सिंह ठाकुर को ज्ञापन सौंपा। इसी तरह कटघोरा में भी अधिवक्ता हड़ताल पर रहे एवं रैली निकालकर विरोध प्रदर्शन किया।

अधिवक्ताओं ने बताया कि लॉ कमीशन ऑफ इंडिया द्वारा प्रस्तुत अधिवक्ता अधिनियम 1961 संशोधन (बिल)2017 के विरोध में छग राज्य अधिवक्ता परिषद के पदाधिकारियों एवं सदस्यों द्वारा पिछले दिनों बैठक आहूत की गई थी। बैठक में प्रस्तावित विधेयक अधिनियम 2017 को काला कानून निरूपित करते हुए इसे स्वतंत्र पेशा को गुलाम बनाने का प्रयास बताया गया। उक्त प्रस्तावित बिल में अधिवक्ताओं की हित की बात का उल्लेख नहीं होना बताया गया। अधिवक्ता अधिनियम 1961 वर्तमान में प्रभावशील है जिसके संबंध में देश के किसी भी अधिवक्ता को कोई आपत्ति नहीं है जबकि प्रस्तावित बिल में अधिवक्ताओं के संगठन में अन्य व्यवसाय से संबद्ध व्यक्ति जैसे डॉक्टर, सीए, रिटायर्ड जज, प्रशासनिक अधिकारी, इंजीनियर, समाजसेवी आदि को मनोनित करना तथा उन्हें अधिवक्ताओं के संगठन का अध्यक्ष मनोनित किया जाना इत्यादि प्रस्तावित है, जिसे अधिवक्ता समुदाय के सामूहिक हित के विपरीत बताया।

अधिवक्ताओं ने संशोधन बिल 2017 के शिल्पकार राष्ट्रीय लॉ कमीशन के अध्यक्ष को बर्खास्त करने की मांग की। इस संंबंध में राष्ट्रपति तथा कानून मंत्री के नाम एक ज्ञापन एडीएम गजेंद्र सिंह ठाकुर को सौंपा गया। इस दौरान अशोक तिवारी, जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष रोहित राजवाड़े, उपाध्यक्ष संजय जायसवाल, मीनू त्रिवेदी जोशी, सचिव गणेश कुलदीप, सहसचिव सुरेश कुमार वर्मा, कोषाध्यक्ष अमरनाथ कौशिक, रघुनंदन सिंह ठाकुर, रवि कुमार वर्मा, किरणभान शांडिल्य, पूनम, प्रेमसिंह कैवर्त, अखिलेश साहू, चंदभूषण प्रता सिंह, मोहितराम बरेठ सहित बड़ी संख्या में अधिवक्ता उपस्थित थे।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???