Patrika Hindi News

रिश्वत लेने के दोषी दो एएसआई को मिली चार-चार साल की सजा

Updated: IST ASI found guilty of taking bribes for two four-yea
स्पेशल कोर्ट ने भ्रष्टाचार के दोषी दो एएसआई को चार-चार साल कैद में रखने की सजा दी है। इन्हें एसीबी ने रिश्वत लेते थाने में ही गिरफ्तार किया था।

कोरबा. स्पेशल कोर्ट ने भ्रष्टाचार के दोषी दो एएसआई को चार-चार साल कैद में रखने की सजा दी है। इन्हें एसीबी ने रिश्वत लेते थाने में ही गिरफ्तार किया था।

अभियोजन पक्ष ने बताया कि वर्ष 2011 में एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने सहायक उपनिरीक्षक बलराम साहू और अंधेरियस तिर्की को तीन हजार रुपए रिश्वत लेते गिरफ्तार किया था। उस समय दोनों एएसआई बांकीमोंगरा थाने में पदस्थ थे।

उनके खिलाफ ब्यूरो ने भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 7 (13) (1) के तहत केस दर्ज किया था। मामले की सुनवाई कोरबा स्पेशल कोर्ट में चल रही थी।

अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश सुनीता साहू की कोर्ट ने अंधेरियस और बलराम को भ्रष्टाचार का दोषी पाया। गुरुवार को न्यायाधीश साहू ने दोष साबित होने पर बलराम और अंधेरियस को

चार-चार साल कैद में रखने की सजा दी। बलराम और अंधेरियस पर क्रमश: 20 और 10 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया। कोर्ट के आदेश के बाद दोनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। दोनों एएसआई की वर्तमान पदस्थापना पुलिस लाइन में थी।

छेड़छाड़ के आरोपी ने की थी शिकायत

घटना के संबंध अभियोजन पक्ष ने बताया कि बांकीमोंगरा निवासी पन्नालाल बंजारे के खिलाफ एक महिला ने छेडख़ानी की रिपोर्ट बांकीमोंगरा थाने में दर्ज कराई थी।

मामले को रफा दफा करने के लिए दोनों एएसआई ने पन्नालाल से आठ हजार रुपए रिश्वत मांगी थी। आरोपी ने घटना की शिकायत एंटी करप्शन ब्यूरो में की थी।

दोनों को पकडऩे के लिए करप्शन ब्यूरो की टीम बांकीमोंगरा आई थी। पन्नालाल को तीन हजार रुपए देकर टीम ने एएसआई के पास भेजा था।

रिश्वत के पैसे को दोनों ने आपस में बांट लिया था। टीम ने भ्रष्टाचार के पैसे के साथ दोनों को पकड़ लिया था।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???