Patrika Hindi News

मकर संक्रांति की बंटी खुशियां

Updated: IST Makar Sankranti gives happiness
शनिवार को मकर संक्रांति पर्व पर अल सुबह सूर्य को अध्र्य देकर दिन की शुरुआत की गई। तिल लड्डुओं का प्रसाद एक दूसरे को वितरण किया गया।

कोरबा. शनिवार को मकर संक्रांति पर्व पर अल सुबह सूर्य को अध्र्य देकर दिन की शुरुआत की गई। तिल लड्डुओं का प्रसाद एक दूसरे को वितरण किया गया। इस महापर्व पर शहर सहित उपनगरीय क्षेत्रों में विभिन्न आयोजन हुए।

लोगों ने शनिवार को दान के साथ मकर संक्रांन्ति का पर्व मनाया। माना जाता है कि पौष माह में मानव शरीर, कई बीमारियों के संपर्क में आ जाता है।

सूरज के उत्तरायण होने के बाद सूर्य की किरणें, शरीर पर औषधि का कार्य करती है। जब सूर्य, कर्क रेखा से मकर रेखा पर आ जाता है तब उसे सूर्य उत्तरायण कहा जाता है।

पौष के मध्य में और आधुनिक पंचाग के अनुसार 14 जनवरी के दिन यह पर्व पड़ता है। सूर्य के एक राशि से दूसरी राशि में आने और जाने को संक्रांति कहते हैं और इसी दिन को लोग धूमधाम से मनाते हैं।

विशेष तौर पर बांटी गई खिचड़ी

मकर संक्रांति को खिचड़ी संक्रंाति भी कहा जाता है। यही कारण है कि लोगों ने अपने घरों में पकवान के रूप में खिचड़ी का प्रसाद लगाकार ग्रहण किया।

शहर के अनेक स्थानों पर समाजासेवी व संगठनों के द्वारा खिचड़ी का वितरण किया गया। सुभाष चौक पर माटी मंच द्वारा प्रसाद का वितरण किया गया। जेसीआई द्वारा भी खिचड़ी बांटी गई।

पतंग उड़ाकार बांटी खुशियां

मकर संक्रांति के पर्व पर शहर के कई स्थानों पर सामूहिक पंतगबाजी की व्यवस्था की गई थी। लोगो का मानना है कि पतंग भी व्यक्ति को सकारात्मक रूप देने की कोशिश करता है

और व्यक्ति को अपने लक्ष्य पर रखने के साथ ऊंचाईयों को छूने का भी संदेश देता है। मनोरंजन के साथ यह नैतिक शिक्षा और परिस्थितियों से जूझने की हिम्मत भी देता है।

घंटाघर स्थित ओपन थियेटर में जेसीआई सेन्ट्रल द्वारा पंतगबाजी का आयोजन किया गया था। इसमें बच्चों ने खूब पतंग उड़ाए।

हर कोई एक दूसरे की पंतग काटने उत्साहित नजर आ रहा था। इसके बाद निगम व समाम सेवी संस्था पहल द्वारा ऑडिटोरियम मेंं आनंद मेला व पतंगमहोत्सव का आयोजन किय गया।

पिकनिक स्पॉट पर भीड़

बुधवार को मकर संक्रंाति के अवसर पर जिले के पिकनिक स्पॉट पर लोगों की भीड़ अधिक रही। सुबह अपने घरों में पूजा अर्चना कर दोस्तों के साथ पिकनिक का लुत्फ उठाया।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???