Patrika Hindi News

Video Icon भोजन छूटे तो छूटे लेकिन दिनचर्या में योगाभ्यास न छूटने पाये

Updated: IST iss the meal but can not miss yoga in the routine.
विश्व योग दिवस के अवसर जिला प्रशासन के प्रमुख प्रशिक्षक व पतंजली योग समिति के जिला प्रभारी रामेश्वर पाण्डेय से पत्रिका ने खास बातचीत की।

कोरबा. विश्व योग दिवस के अवसर जिला प्रशासन के प्रमुख प्रशिक्षक व पतंजली योग समिति के जिला प्रभारी रामेश्वर पाण्डेय से पत्रिका ने खास बातचीत की। इस दौरान उन्होंने जीवन में योग के महत्व के साथ ही अपनी दिनचर्या के विषय में विस्तारपूर्वक जानकारी दी।

रामेश्व 21 जून को सीएसईबी फुटबॉल मैदान में जिला प्रशासन द्वारा आयोजित होने वाले मुख्य योग दिवस के समारोह में बतौर प्रमुख प्रशिक्षक उपस्थित रहेंगे। छत्तीसगढ़ शासन ने भी इस आयोजन के लिए पतंजली योग समिति को समन्वयक नियुक्त किया है।

रामेश्वर कहते हैं कि दिन भर के दौरान भले ही भोजन छूट जाए। लेकिन योगाभ्यास को नहीं छोडऩा चहिए नियमित तौर पर योगाभ्यास को जीवन का अभिन्न अंग बना लें। योग दिवस पर चर्चा करते हुए रामेश्वर ने बताया कि इस कार्यक्रम का सफल बनाने के लिए रोज सुबह 3:30 बजे उठ जाते हैं।

वीडियो भी देखें :

जिले भर में संचालित योग कक्षाओं का जायजा लेते हैं। इसके बाद पुन: जिले भर के प्रमुख स्थानों पर योग दिवस के लिए निर्धारित प्रोटोकॉल वाले प्राणायाम का प्रशिक्षण देते हैं। दिन भर में 5 घण्टे तक योग का प्रशिक्षण का आयोजन हो जाता है।

रामेश्वर बताते हैं कि जब से 21 जून को अंर्तराष्ट्रीय योग दिवस के तौर पर स्वीकृत किया गया है। तब से इस क्षेत्र में जबरदस्त क्रांती आ गई है।

पतंजली का लक्ष्य है, जिले को योगमयी बनाना है। 2005 में 7 लोगों से यह कारवां शुरू हुआ था। आज जिले में हमारे 600 प्रतिशक्षक व 12000 कार्यकर्ता हैं।

वर्तमान में यहां 65 नियमित योग कक्षाएं चल रही हैं। इसे 500 कक्षाएं करने का लक्ष्य है। इस संबंध में हाल ही में हरिद्वार में स्वामी रामदेव से भी अहम टिप्स मिले हैं।

अंत में यही कहंूगा कि योग ही जीवन का आधार है। बहुत ज्यादा व्यस्तता है तब भी जल्दी सोकर जल्दी उठने का प्रयास करें। सुबह आधे घण्टे अनुलोम विलोम व कपाल भारती का अभ्यास करें। वैसे तो हम दिन में एक घण्टे योग को समर्पित करने की सलाह देते हैं।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???