Patrika Hindi News

चॉकलेट खिलाने के बहाने घर ले जाकर मासूम से किया रेप, अब 10 साल की Jail

Updated: IST innocent raped
फास्ट ट्रैक कोर्ट ने आरोपी युवक को सुनाया 10 साल का कठोर कारावास, 3 वर्ष पूर्व अपने घर ले जाकर दिया था वारदात को अंजाम

बैकुंठपुर. फास्ट ट्रैक कोर्ट ने शुक्रवार को 4 साल की मासूम बच्ची को चॉकलेट खिलाने के बहाने अपने घर ले जाकर दरिंदगी करने वाले आरोपी को 10 साल का सश्रम करावास की सजा सुनाई है। कोर्ट ने आरोपी पर 500 रुपए जुर्माना भी लगाया है। जुर्माने की राशि नहीं पटाने पर 6 महीने जेल में अतिरिक्त सजा भुगतनी पड़ेगी।

जी हां ये दिल्ली नहीं छत्तीसगढ़ है! तो क्या गैंगरेप के दरिंदों को कम सजा दी जाए?

कोरिया जिले के थाना झगराखांड़ मोहाड़ा दफाई निवासी अखिलेश उर्फ रामरतन पिता रामसुंदर (21) ने 28 फरवरी 2014 को शाम करीब 4 बजे घर के बाहर खेल रही 4 साल की मासूम को चॉकलेट खिलाने के बहाने अपने घर ले गया था। आरोपी ने इसके बाद अपने घर में बच्ची के साथ दरिंदगी की थी और अपने घर के कमरे में बंद कर दिया था।

महिला का गैंगरेप कर युवकों ने बनाया MMS, कहा - किसी को बताया तो कर देंगे वायरल

पीडि़त बच्ची के काफी देर तक घर नहीं लौटने पर माता-पिता तलाश करने लगे। इस दौरान पीडि़त बच्ची के साथ खेलने वाले बच्चों से पूछताछ की गई। इससे बच्चों ने आरोपी के साथ जाने की बात कही थी। इस पर पीडि़ता की माता ने बच्चों से बच्ची को खोजकर लाने कहा। बच्चे मासूम को खोजते हुए आरोपी के घर पहुंचे।

घर में घुसकर नाबालिग से दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

इस दौरान पीडि़त बच्ची आरोपी के घर के बिस्तर में खून से लथपथ और बेहोश मिली थी। मामले में स्थानीय नागरिक व परिजन एकत्रित होकर आरोपी के खिलाफ थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने रिपोर्ट पर अपराध पंजीबद्ध कर जांच रिपोर्ट न्यायालय में प्रस्तुत की थी।

LOVE, SEX और धोखा,शादी का झांसा देकर नाबालिग से दुष्कर्म

फास्ट ट्रैक कोर्ट ने मामले की सुनवाई करते हुए आरोपी अखिलेश को धारा 376 व पास्को एक्ट-6 में 10 साल की सश्रम करावास और 500 रुपए जुर्माना लगाया है। जुर्माने की राशि का भुगतान नहीं करने पर 6 महीने जेल में अतिरिक्त सजा भुगतनी पड़ेगी।

बेटियों की जान बचाने पत्नी ने की शराबी पति की हत्या

आरोपी के घर में बेहोश मिली थी मासूम

जानकारी के अनुसार पीडि़त बच्ची के घर नहीं पहुंचने पर माता ने बच्ची के साथ खेलने वाले बच्चों को खोजने के लिए भेजा था। पीडि़ता के साथ खोजते हुए आरोपी के घर पहुंचे। जहां आरोपी के घर के बिस्तर में बच्ची खून से लथपथ और बेहोश पड़ी थी।

पंडरी में चाकू की नोंक पर लूट की कोशिश, तीन युवक गिरफ्तार

बच्चे बेहोश बच्ची को गोद में लेकर घर पहुंचे और परिजनों को मामले की जानकारी दी। परिजनों ने मामले में तत्काल आरोपी के खिलाफ थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???