Patrika Hindi News

> > > > Koriya : Timing of train or not Railways closing the gate of the National Highway

Train की टाइमिंग हो या न हो Railway ने बंद किया NH का यह फाटक

Updated: IST Railway gate closed
गाडिय़ों की लंबी लाइन लगने पर स्टेशन मास्टर की परमिशन से खुलेगा, 23 सितंबर को सोनहत मार्ग के यात्री रहे हलाकान, फाटक से हर रोज पार होती हैं हजारों गाडिय़ां

बैकुंठपुर. रेलवे प्रशासन ने आदेश का हवाला देकर शुक्रवार को नेशनल हाइवे से लगे खरवत रेलवे फाटक क्रमांक एबी 43 को हमेशा के लिए बंद कर दिया है। रेलवे प्रशासन के निर्णय से शुक्रवार को दिनभर सोनहत-रामगढ़ मार्ग की ओर आने-जाने वाले भारी वाहन, दुपहिया वाहन चालकों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। इस दौरान फाटक के दोनों ओर गाडिय़ों की लंबी कतार लगने पर स्टेशन मास्टर के परमिशन से करीब 5-6 बार ही रेलवे फाटक खोला गया।

स्थानीय रेलवे प्रबंधन ने शुक्रवार की सुबह खरवट रेलवे फाटक को हमेशा के लिए बंद कर दिया है। जिससे विकासखण्ड सोहनत सहित रामगढ़, माड़ीसरई सड़क मार्ग पर आवागमन बाधित रही। प्रबंधन ने फाटक के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लगने पर फाटक को खोलने का परमिशन दिया और कुछ समय के लिए फाटक को खोला गया। प्रबंधन ने दिनभर में करीब 5-6 बार फाटक को खोलने का परमिशन दिया था।

जानकारी के अनुसार रेलवे प्रशासन ने खरवट रेलवे फाटक को दशकों पहले बंद करने का आदेश दिया था। लेकिन स्थानीय रेलवे प्रबंधन ने ट्रैक पर ट्रेन के आवागमन नहीं होने पर आम जनता की सुविधा को ध्यान में रखकर खरवट फाटक को खुल छोड़ दिया जाता था और ट्रेन के आवागमन होने पर ही फाटक बंद किया जाता था।

फाटक खुला मिला, अफसरों को नोटिस!

रेलवे हेडक्वार्टर बिलासपुर से कुछ दिन पहले निरीक्षण करने टीम आई थी। इस दौरान खरवट रेलवे फाटक को खुला पाया गया। मामले में टीम ने रेलवे प्रबंधन को फाटक खुला होने की रिपोर्ट सौंपी थी। रिपोर्ट के आधार पर रेलवे हेड क्वार्टर ने स्थानीय अफसरों को तलब कर नाराजगी जताई और नोटिस जारी कर जवाब प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं। इसके अलवा कुछ कर्मचारियों पर सस्पेंशन की कार्रवाई होने की बात भी कही जा रही है।

विकासखण्ड सोनहत को जोडऩे एक ही रास्ता

स्थानीय नागरिकों के अनुसार सोनहत विकासखण्ड सहित जनकपुर विकासखण्ड के कुंछ ग्राम पंचायत को जिला मुख्यालय से जोडऩे के लिए एक मात्र सड़क मार्ग है। इसके अलावा कटगोड़ी माइंस में प्रतिदिन सैकड़ों कामगार कार्य करने जाते हैं। एसईसीएल प्रबंधन द्वारा कामगारों को बस कटगोड़ी पहुंचाया जाता है। खरवत रेलवे फाटक को बंद करने से बस सेवाएं सहित एंबुलेंस सेवाएं प्रभावित हो रही है।

किसी को दफ्तर तो किसी को स्कूल पहुंचने में लेट

जानकारी के अनुसार खरवट रेलवे फाटक को बंद करने से प्रतिदिन सोनहत, कटगोड़ी, रामगढ़ सहित अन्य स्थानों पर कार्य करने जाने वाले सरकारी कर्मचारियों को कार्यालय पहुंचने में देरी हो गई। इसके अलावा सोनहत विकासखण्ड से आने वाले स्टूडेंट्स व कर्मचारियों को बैकुंठपुर पहुंचने में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। बस से सफर करने वाले अधिकांश कर्मचारी व स्टूडेंट्स को संस्था तक पहुंचने में देरी हो गई।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे