Patrika Hindi News

योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करने के लिए युवा वाहिनी ने छेड़ी मुहिम

Updated: IST Yogi Adityanath
जनसमर्थन के लिये युवा वाहिनि कार्यकर्ताओं ने शुरू किया अभियान।

कुशीनगर. भाजपा के मित्र संगठन हिंदू युवा वाहिनी ने गोरखपुर के भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित कराने के लिए मुहिम छेड दी है. शनिवार को कुशीनगर जिले के खड्डा विधानसभा क्षेत्र के पकड़ियार बाजार से हियुवा कार्यकर्ताओं ने मोटरसाइकिल जूलूस निकाला और रामपुर भाठ गांव में सभा की। जूलूस में हियुवा कार्यकर्ताओं ने योगी को मुख्यमंत्री बनाने के समर्थन में नारे लगाते हुए करीब दो दर्जन गांवों का भ्रमण किया। कार्यकर्ता ष्बच्चा मांगे मां की गोदी, प्रदेश की जनता मांगे योगी ष्, ष्हमारा सीएम कैसा हो, योगी आदित्यनाथ जैसा होष् के नारे लगा रहे थे। जनसमर्थन के लिए पूरे कुशीनगर जिले में लगातार इस तरह का कार्यक्रम जारी रहेगा. इस जूलूस का नेतृत्व हियुवा के जिला प्रभारी व जिला महामंत्री कर रहे थे.

मालूम रहे कि हिंदू युवा वाहिनी एक मजबूत हिंदूवादी संगठन है। इसके संरक्षक भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ हैं। हियुवा के नेता भाजपा के ष्कमलष् चुनाव चिह्न पर ही चुनाव लड़ते हैं। प्रदेश विधानसभा के लिए चुनाव का डंका बजने के पहले से हियुवा यदा-कदा योगी को मुख्यमंत्री बनाने की मांग करती रही है। परंतु चुनाव का बिगुल बजते ही योगी को प्रदेश का भावी मुख्यमंत्री घोषित करने की मांग भाजपा से करते हुए हियुवा ने मुहिम छेड़ दी है। शनिवार को खड्डा विधानसभा के पकड़ियार बाजार से हियुवा कार्यकर्ताओं ने मोटरसाइकिल जूलूस निकाल कर करीब दो दर्जन गांवों का भ्रमण किया। हियुवा कार्यकर्ता योगी को मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करने के समर्थन में ष्बच्चा मांगे मां की गोदी, प्रदेश की जनता मांगे योगीष्, ष्हमारा सीएम कैसा हो योगी आदित्यनाथ जैसा होष् के नारे लगा रहे थे। जूलूस का नेतृत्व हियुवा के जिला प्रभारी अजय गोविंद शिशु व जिला महामंत्री फूलबदन कुशवाहा कर रहे थे। यह जूलूस करीब दो दर्जन गांवों से होकर गुजरा। रामपुर भाठ गांव में हियुवा कार्यकर्ताओं ने एक सभा भी की। सभा में भी वक्ताओं ने योगी को मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करने की वकालत की।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???