Patrika Hindi News
Bhoot desktop

योग से बेहतर करियर भी सम्भव : मंगेश त्रिवेदी

Updated: IST Mangesh Trivedi
योग से न सिर्फ़ आपका शारीरिक स्वास्थ्य ठीक रहता है बल्कि आपका मानसिक स्वास्थ्य भी ठीक रहता है। तथा शरीर और मन की कार्य क्षमता में वृद्धि होती है।

लखीमपुर. योग से न सिर्फ़ आपका शारीरिक स्वास्थ्य ठीक रहता है बल्कि आपका मानसिक स्वास्थ्य भी ठीक रहता है। तथा शरीर और मन की कार्य क्षमता में वृद्धि होती है । इसीलिए आजकल निजी तथा सरकारी दोनों क्षेत्रों में योग शिक्षकों की माँग लगातार बढ़ती जा रही है । प्रसिद्ध योग गुरु मंगेश त्रिवेदी बताते हैं कि आजकल योग से बेहतर करियर का भी निर्माण किया जा सकता है । योग शिक्षक बनने के लिए ज़रूरी है कि आपको योग की पूरी समझ एवं जानकारी के साथ-साथ शरीर विज्ञान का ज्ञान भी हो। अगर आप एक भी योगासन या प्राणायाम ग़लत तरीक़े से करेंगे या कराएँगे तो वह नई परेशानी को जन्म दे सकता है। योग गुरु मंगेश का कहना है कि स्कूल-कॉलेजों में योग इंस्ट्रक्टर बनने के अलावा, लेक्चरर, रीडर व प्रोफेसर बनने के ऑप्शंस भी होते हैं। हॉस्पिटल्स, एंप्लाईज ट्रेनिंग सेंटर्स आदि के अलावा योग इंस्ट्रक्टर के तौर पर विभिन्न निजी कंपनियां, होटलों, अस्पतालों में भी अपनी सेवा दे सकते हैं।

इसके अतिरिक्त उत्तर प्रदेश राज्य सरकार तथा उत्तराखंड राज्य सरकार ने प्राथमिक विद्यालय तथा इंटर कॉलेज में योग को एक विषय के रूप में पढ़ाने का विचार बना रही है तथा प्रत्येक केंद्रीय विद्यालय में एक योग शिक्षक की नियुक्ति अवश्यक होती है। जिससे काफ़ी लोगों को योग के माध्यम से रोज़गार की प्राप्ति होगी। परंतु इसके लिए आवश्यक है कि आपने किसी मान्यता प्राप्त संस्थान या किसी कॉलेज या विश्वविद्यालय से योग में डिप्लोमा या परास्नातक की शिक्षा प्राप्त की हो। वर्तमान में भारत में 30 से ज्यादा विश्वविद्यालयों एवं कॉलेजों में योग विषय में स्नातक एवं स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम चलाए जा रहे हैं। किसी भी क्षेत्र के स्नातक योग से संबंधित पाठ्यक्रम में शामिल हो सकते हैं, जिनमें से प्रमुख हैं। योग कोर्स कराने वाले कुछ संस्थान। आप इन सरकारी और गैर-सरकारी संस्थानों से योग सीख सकते हैं। और योग के माध्यम से रोज़गार प्राप्त कर सकते है ।

इसके अतिरिक्त आप दूरस्थ शिक्षा के माध्यम से भी योग की शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं। कुछ प्रमुख विश्व विद्यालय जो दूरस्थ शिक्षा के माध्यम से योग की शिक्षा प्रदान करते हैं उनके नाम निम्म हैं-

1 -जैन विश्व भारती विश्वविद्यालय, लाडनू ,राजस्थान
2- उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय ,हल्द्वानी (नैनीताल), उत्तराखंड
3-देव संस्कृति विश्वविद्यालय, हरिद्वार, उत्तराखंड।

लेखक योगगुरु मंगेश त्रिवेदी उच्च शिक्षा प्राप्त योग विशेषज्ञ हैं। जो नियमित रूप से दिल्ली में अनेक दूतावासों तथा अनेकों निजी कम्पनीयों के पदाधिकारियों एवं कर्मचारियों को योग के माध्यम से निरोग रहने के लिए योग क्लास लेते रहते हैं। इनके लेख नियमित रूप से अनेक पत्रिकाओं में प्रकाशित होते रहते हैं, तथा टेलिविज़न के विभिन्न निजी चैनल्ज़ पर इनके प्रोग्राम आते रहते हैं।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???