Patrika Hindi News
Bhoot desktop

यूपी के थाने SP के दफ्तर की तरह कर रहे काम, गायत्री प्रजापति की हो गिरफ्तारी : BJP

Updated: IST bjp
उत्तर प्रदेश में थानों को सपा का कार्यालय बना दिया गया है। जहाँ सपा के गुण्डे बैठ कर हुक्म चलाते है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के थाने समाजवादी पार्टी कार्यालय के दफ्तर की तरह काम कर रहे हैं। पीड़ित को एफआईआर दर्ज कराने के लिए सुप्रीम कोर्ट का सहारा लेना पड़ रहा है। थानों में पुलिस नहीं सपा के गुंडे काम कर रहे हैं और उन्हीं के इशारे पर काम हो रहा है।

ये बात यूपी बीजेपी के प्रदेश महामंत्री विजय बहादुर पाठक ने सपा के कद्दावर मंत्री पर गायत्री प्रजापति पर सुप्रीम कोर्ट की ओर से आये आदेश के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कही गयी।

पाठक ने कहा कि उत्तर प्रदेश में थानों को सपा का कार्यालय बना दिया गया है। जहाँ सपा के गुण्डे बैठ कर हुक्म चलाते है। उनके कहने पर ही एफआईआर दर्ज होती है। इसी वजह से महिलाओं को अपने साथ हुई बदसलूकी के लिए कोर्ट से गुहार लगानी पड़ रही है।

गायत्री प्रजापति के मामले में देश की सर्वोच्च अदालत का निर्देश उत्तर प्रदेश में हो रही घटनाओं का आईना है। माँ-बहनों को दुराचार का शिकार बनाने वाले रसूखदारों के खिलाफ सुनवाई नहीं हो रही है क्योंकि थाने पर अखिलेश यादव के संरक्षण में पल-बढ़ रहे सपाई गुण्डों का कब्जा है।

गायत्री प्रजापति पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली महिला अपनी एफआईआर दर्ज करवाने के लिए दर-दर भटकती रही कहीं कोई सुनवाई नही हुई। बाद में महिला न्याय के लिए सुप्रीम कोर्ट की शरण पहुंची। जहाँ महिला के आरोपों को कोर्ट ने सुना और मामले की गंभीरता को देखते हुए अखिलेश के कद्दावर मंत्री गायत्री प्रजापति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के लिए निर्देश दिये।

उन्होंने कहा कि इससे पहले सपा विधायक अरूण वर्मा के खिलाफ भी जिस युवती ने यौन उत्पीड़न का मुकदमा लिखवाया गया था, उसकी हत्या कर दी गयी। युवती की हत्या के मामले में आरोपी विधायक की मुख्यमंत्री की सरपरस्ती के चलते अभी तक गिरफ्तारी नही हो सकी है, आखिर क्यों ?

इसके पहले समाजवादी पार्टी के बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद ने एक प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थान में घुसकर अराजकता की थी। इस मामले में भी कोर्ट के हस्तक्षेप के बाद ही कार्रवाई हुई।

बीजेपी पूरी गम्भीरता के साथ यह मांग करती है कि गायत्री प्रजापति पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली युवती को तत्काल सुरक्षा मुहैया करायी जाये। क्योंकि सपा विधायक अरूण वर्मा पर भी इसी तरह के आरोप लगे थे और बाद में पीड़ित युवती की हत्या हो गई।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???