Patrika Hindi News

> > > > BSP and BJP targets CM Akhilesh Yadav over Lucknow Metro trial

UP Election 2017

अखिलेश ने किया मेट्रो का उद्घाटन, भाजपा-बसपा का अपना-अपना दावा

Updated: IST Lucknow Metro
लखनऊ मेट्रो का श्रेय लेने में जुटी सपा, बसपा और भाजपा, सबके अपने-अपने तर्क...

लखनऊ. राजधानी में गुरुवार को पहले चरण में ट्रांसपोर्ट नगर से मवैया तक सफल ट्रायल रन हुआ। मेट्रो को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। मेट्रो ट्रायल पर राजनीति शुरू हो गई है। बसपा सुप्रीमो मायावती ने अखिलेश सरकार पर निशाना साधते हुए इसे समय से पहले किया गया उद्घाटन बताया। उन्होंने कहा कि अखिलेश सरकार हड़बड़ी में उद्घाटन कर रही है। उन्हें पता है कि समाजवादी पार्टी की सरकार अब दोबारा सत्ता में नहीं आने वाली। उन्होंने कहा कि मेट्रो का प्लान बसपा सरकार का था।

केंद्रीय मंत्री सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्री कलराज मिश्र ने कहा कि लखनऊ मेट्रो के लिए पैसा केंद्र सरकार ने दिया और इसका ट्रायल यूपी सरकार द्वारा किया जा रहा है। वह कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह को आमंत्रित नहीं किए जाने से नाराज दिखे। उन्होंने कहा कि मेट्रो केंद्र के सहयोग से बन रहा है जबकि इसका श्रेय खुद मुख्यमंत्री अखिलेश यादव लेना चाहते हैं।

केंद्रीय मंत्री ने कहा है कि हजार व 500 के नोट बंद करने के ऐतिहासिक फैसले में जनता भाजपा के साथ है। आगामी विधानसभा चुनाव में इसके ऐतिहासिक फैसले सामने आएंगे। कलराज मिश्र ने कहा कि मोदी सरकार ने इतना बड़ा कदम उठाया है। इसलिए कुछ तकलीफ होना स्वाभाविक है। लेकिन, इसके बावजूद लोग फैसले की सराहना कर रहे हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि नोटबंदी के मुद्दे पर विपक्ष द्वारा संसद न चलने देना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है।

गौरतलब है कि राजधानी में गुरुवार को पहले चरण में ट्रांसपोर्ट नगर से मवैया तक सफल ट्रायल रन हुआ। इस दौरान मेट्रो के चार कोचों का 6 किलोमीटर ट्रायल रन हुआ। सांसद डिंपल यादव ने लखनऊ की पहली महिला पायलट (इलाहाबाद की प्राची और प्रतिभा) को मेट्रो की चाभी सौंपी। इस दौरान मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव, कैबिनेट मंत्री आजम खान समेत कई दिग्गज नेता मौजूदा रहे।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???