Patrika Hindi News

CBSE NEET Result 2017: जानिए रिजल्ट आने के बाद आपको आगे क्या-क्या करने होंगे?

Updated: IST result declared
CBSE केवल NEET परीक्षा आयोजित करने और परिणाम घोषित करने के लिए जिम्मेदार है।

लखनऊ.उन छात्रों के लिए यह अच्छी खबर है जिन्होंने CBSE NEET का एग्जाम दिया है अब उन्हें Result का बेसब्री से इंजतार है, लेकिन चिंता की कोई जरूरत नहीं है क्यों कि मंगलवार को CBSE NEET का रिजलट आने वाला है। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानी CBSE NEET 2017 परीक्षा के Result घोषित करेगा। रिजल्ट बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइटcbseresults.nic.inपर उपलब्ध होंगे। अब रिजल्ट तो आ ही रहा है तो इसको लेकर एक ओर जहां छात्रों में उत्साह है तो वहीं क्या आपने सोचा है कि रिजल्ट आने के बाद आपका अगला कदम क्या होगा, नहीं न तो चलिए यहां जानते हैं कि आगे क्या करना है।

सबसे पहले तो यह जान लें कि CBSE केवल NEET परीक्षा आयोजित करने और परिणाम घोषित करने के लिए जिम्मेदार है। Counselling और अंतिम सीट आवंटन प्रक्रिया Medical Counselling Committee (एमसीसी), स्वास्थ्य विज्ञान महानिदेशालय और राज्य सरकारों द्वारा नियुक्त अन्य सक्षम अधिकारियों के तहत आती है।

दो अलग-अलग कोटे पर की जाएगी काउंसिलिंग
आपको बता दें कि NEET Counselling दो अलग-अलग कोटे पर की जाएगी। पहला ऑल इंडिया कोटा, जिसके तहत कुल सीटों में से 15 फीसदी सीटों के लिए Counselling होगी। दूसरा है स्टेट कोटा, जिसके तहत बची हुई 85 फीसदी सीटों के लिए Counselling कराई जाएगी।

ऑल इंडिया कोटा MBBS और BDS सीट के लिए Counselling एमसीसी द्वारा कराई जाएगी।

काउंसलिंग से जुड़ी जरूरी बातें
1. सीबीएसई परिणामों की घोषणा करने के साथ अखिल भारतीय कोटा रैंक जारी करेगा। ऑल इंडिया रैंक को काउंसलिंग और 15 फीसदी सीटों के लिए उपयोग किया जाएगा

2. स्टेट काउंसलिंग प्रोसेस के तहत सरकार और सरकारी सहायता प्राप्त संस्थानों के अलावा प्राइवेट मेडिकल संस्थान भी इसमें हिस्सा लेंगे।

3. राज्य की कोटा सीटों के लिए काउंसलिंग की जानकारी राज्य सरकारों द्वारा अलग-अलग जारी की जाएगी।

4. ऑल इंडिया सीटों के लिए सफल छात्रों को एमसीसी की वेबसाइट पर रजिस्टर करना होगा, जिसके बाद वह अपनी च्वाइस के आधार पर संस्थान चुन सकते हैं।

5. ऑल इंडिया कोटा रैंक स्टेट काउंसलिंग के लिए मान्य नहीं होगी। संबंधित परीक्षा अधिकारी राज्य की कट ऑफ के बारे में छात्रों को सूचित करेंगे।

यहां ये ध्यान देने की बात है कि आप जब परीक्षा में सफल हो गए हैं तो आगे सीबीएसई के भरोसे न बैठें क्यों कि सीबीएसई का काम केवल रिजल्ट की घोषणा करना था अब बाकी के काम अन्य संस्थानों से होगा। अब आपको कहां से कौन से प्रोसेस होंगे उस पर अपनी नजरें रखनी होगी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???