Patrika Hindi News

CM अखिलेश की सुरक्षा और कड़ी करने की तैयारी, बनाया गया फुलप्रूफ प्लान!

Updated: IST akhilesh yadav
CM अखिलेश यादव की जान को खतरा बढ़ा है। ऐसे इनपुट पहले भी मिलते रहे हैं लेकिन चुनाव को देखते यह चुनौती गंभीर है।

लखनऊ.उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की जान को खतरा बढ़ा है। ऐसे इनपुट पहले भी मिलते रहे हैं लेकिन विधानसभा चुनाव को देखते यह चुनौती गंभीर है। इसीलिए अखिलेश यादव की सुरक्षा व्यवस्था और चाक-चौबंद करने की तैयारी की जा रही है। विधानसभा चुनाव के मद्देनजर अखिलेश के व्यस्त चुनावी कार्यक्रम को देखते हुए यह फैसला लिया गया है।

सुरक्षा एजेंसियां पहले ही करेंगी जांच
जिलों के दौरे पर मुख्यमंत्री अखिलेश के पहुंचने से पहले सुरक्षा एजेंसियां वहां पहले ही पहुंचकर सुरक्षा व्यवस्था देखेंगी। इस दौरान सुरक्षा निदेशालय के IG, DIG या SP स्तर के अधिकारी, संबंधित जिले के पुलिस अधिकारी और CM सुरक्षा दस्ते के अधिकारी मौजूद रहेंगे। मुख्यमंत्री के सुरक्षा काफिले में अब एक रस्सा पार्टी भी शामिल रहेगी, जिससे कार्यक्रम के दौरान भीड़ को नियंत्रित किया जा सके।

akhilesh yadav

लापहवाह अधिकारियों पर होगी कार्रवाई
IG एसटीएफ राजकुमार ने बताया कि यह निर्णय मंगलवार को DGP मुख्यालय में हुई मुख्यमंत्री सुरक्षा की समीक्षा बैठक में लिया गया। इसमें ADG लॉ ऐंड ऑर्डर दलजीत सिंह चौधरी और ADG सुरक्षा भवेश कुमार सिंह मौजूद थे। सभी को निर्देश दिया गया है कि जिलों में सुरक्षा के दौरान जिन अफसरों की लापरवाही पायी जाएगी उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। यह भी निर्णय लिया गया कि मुख्यमंत्री की सुरक्षा में एक रस्सा पार्टी शामिल की जाएगी जिससे किसी प्रकार की अनियंत्रित भीड़ को रोका जा सके।

सुरक्षा के फुलप्रूफ प्लानतैयार
मुख्यमंत्री की सुरक्षा को लेकर ग्रीन बुक में भी महत्वपूर्ण संशोधन प्रस्तावित किए गए हैं। इसकी गोपनीयता भी बनाई गई है। विधानसभा चुनाव सामने होने की वजह से मुख्यमंत्री के प्रदेशव्यापी दौरे होने हैं। आमजन के बीच घुले-मिले होने से भीड़ उनके आस-पास पहुंच जाती है। ऐसे में उनकी सुरक्षा को लेकर गंभीर खतरे उत्पन्न हो सकते हैं। इसलिए अब फुलप्रूफ प्लान तैयार किया गया है ताकि कोई चूक न हो सके। डीजीपी जावीद अहमद ने यह भी दोहराया है कि मुख्यमंत्री की सुरक्षा को लेकर कतई लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

akhilesh yadav

सीएम की सुरक्षा में हुई थी चूक
दरअसल आगरा में इनर रिंग रोड के उद्घाटन के दौरान सीएम अखिलेश यादव की सुरक्षा में भारी चूक सामने हुई थी। 27 नवंबर को अखि‍लेश आगरा में 30 योजनाओं का लोकर्पण करने पहुंचे थे। जब सीएम इनर रिंग रोड पहुंचे तो वहां सैंकड़ों सपा नेता और ग्रामीण अचानक सीएम के पास आ गए। सुरक्षाकर्मी भी इस भीड़ को न रोक पाए। भीड़ की वजह से मुख्‍यमंत्री के साथ धक्‍का-मुक्‍की हुई। उद्घाटन करते समय सीएम के स्‍वागत में खड़ी युवतियां घबराकर चीखने लगी थीं। तब सीएम को सुरक्षाकर्मियों से युवतियों को सुरक्षित ले जाने को कहना पड़ा। मुश्किल से उद्घाटन का फीता काटने के बाद वापस कार की तरफ लौटे तो भीड़ ने कार को घेर लिया था।
akhilesh yadav
एसएसपी अपनी गाड़ी के साथ आगे निकल गए थे। बाद में उन्‍हें वापस दौड़ लगानी पड़ी थी।इस पर सीएम ने कड़ी नाराजगी जाहिर की थी। जिसके बाद इसमामले में कई अधिकारियों पर कार्रवाई भी हुई।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???