Patrika Hindi News
UP Scam

सपा की ‘Important Meeting’ से अखिलेश ने बनाई दूरी, नहीं होगे शामिल!

Updated: IST Akhilesh Yadav
अखिलेश ने इशारों में बयां किया अपना दर्द, सपा में नाराजगी का दौर जारी

लखनऊ। समाजवादी पार्टी की अंतर्कलह खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। मुख्यमंत्री आवास पर बुधवार को हुए राशन कार्ड वितरण कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव एक बार फिर तल्ख अंदाज में नजर आए। उन्होंने इशारों में अपना दर्द भी बयां किया लेकिन साफ कुछ भी कहने से इंकार कर दिया। लेकिन मुख्यमंत्री की बातों से यह साफ हो चुका है कि वे 22 अक्टूबर को होने वाली समाजवादी पार्टी की राज्य कार्यकारिणी की बैठक में शामिल होने वाले नहीं हैं। संभवत: पहला मौका होगा जब सीएम अखिलेश यादव राज्य कार्यकारिणी की बैठक का हिस्सा नहीं होंगे।

अखिलेश ने दिया साफ जवाब

कार्यक्रम के दौरान मीडिया से मुखातिब हुए अखिलेश से जब कार्यकारिणी की बैठक में शामिल होने के मुद्दे पर सवाल किया गया तो उन्होंने साफ लफ्जों में कहा कि, मैं इस बारे में आज कुछ नहीं बोलूंगा। हालांकि बाद में उन्होंने सवाल के जवाब में सवाल करते हुए कहा कि आप को तो पता ही होगा कि राज्य कार्यकारिणी की बैठक में कौन लोग जाते हैं। अखिलेश की इस बात से साफ जाहिर होता है कि वे फिलहाल बैठक में जाने के मूड में नहीं हैं। आपको बता दें कि सपा की नई कार्यकारिणी का गठन 6 अक्टूबर को किया गया था। नई कार्यकारिणी में मुख्यमंत्री के करीबी लोगों को जगह नहीं दी गई जबकि पुरानी कार्यकारिणी में अखिलेश टीम के तमाम लोग थे। खास बात यह रही कि सीएम अखिलेश यादव को भी राज्य कार्यकारिणी में विशेष आमंत्रित सदस्य तक नहीं बनाया गया।

मुलायम होंगे अखिलेश नहीं

सपा मुख्यालय में होने वाली राज्य कार्यकारिणी के बैठक में सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव और सपा प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव शिरकत करेंगे, जबकि अखिलेश यादव ने बैठक से दूरी बनाने का मन बना लिया है। वजह साफ है कि अखिलेश यादव को इस बैठक के लिए न तो अभी तक आमंत्रित किया गया गया है और न ही उन्हें कार्यकारिणी में शामिल किया गया।

टीम अखिलेश ने भी किया किनारा

टीम अखिलेश ने समाजवादी पार्टी के रजत जयंती समारोह का बॉयकॉट करने का फैसला ले लिया है। अखिलेश के समर्थक माने जाने वाले कई विधायक, विधान परिषद सदस्य और अन्य सपा नेताओं ने मंगलवार को जनेश्वर मिश्र ट्रस्ट के ऑफिस में बैठक की। बैठक में तय किया गया कि जब तक सपा से निष्काषित अखिलेश समर्थक युवा नेताओं की पार्टी में वापसी नहीं होती वे किसी भी समारोह में हिस्सा नहीं लेंगे।इस बैठक की अगुवाई सैनिक प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष कर्नल सत्यवीर सिंह यादव ने की थी।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???