Patrika Hindi News

अब बोलेंगी डिम्पल सुनेगी जनता ... 

Updated: IST Akhilesh Yadav
डिंपल यादव और अखिलेश को लेकर जल्द ही कुछ और वीडियो और फोटो वायरल किए जाने की तैयारी है जिसमें में अन्य नेताओं से अलग नजर आएंगे...

लखनऊ. क्या आपने कभी सपा सांसद डिंपल यादव का लंबा भाषण सुना है? शायद नहीं। उन्हें कहीं कोई सार्वजनिक भाषण देते भी नहीं सुना गया। लेकिन, जल्द ही डिंपल सार्वजनिक सभाओं में भीड़ को संबोधित करते दिखेंगी। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी और कनौज सासंद डिंपल समाजवादी पार्टी की स्टार प्रचारक होंगी। मृदुभाषी और सौम्य व्यक्तित्च की स्वामिनी डिंपल के जरिए युवाओं को लुभाने का प्रयास किया जाएगा। हालांकि डिंपल 2012 से लोकसभा सांसद हैं लेकिन अपनी शांत छवि के कारण सुर्खियों में बहुत कम रही है। लेकिन अब शांत और सौम्य बहू वाली छवि से बाहर निकलकर वह यूपी के चुनावी समीकरण को उलटने की कोशिश करेंगी। वे पहली बार चुनावी सभाओं में भावनाओं का ज्वार उठाने की कोशिश करेंगीं। वे जनता को बताएंगी कि कैसे अखिलेश यादव ने साढ़े चार साल तक पुत्र धर्म का निर्वाह किया। जब सिर से पानी ऊपर हो गया तो उन्होंने मुलायम सिंह की बात नहीं मानी। यह संदेश डिंपल यादव की तरफ से इसलिए दिया जाएगा ताकि जनता में यह संदेश न जाए कि अखिलेश एक जिद्दी बेटे हैं और पिता की कुर्सी हड़प लिए हैं। डिंपल के इसे काम में सहयोग करेंगी कांग्रेस की नेता प्रियंका गांधी। दोनों एक साथ मंच शेयर करेंगी। एक अपने पति के लिए वोट मांगेगी तो दूसरी अपने भाई के लिए।

अखिलेश की आर्दश छवि भुनाने की कोशिश
ऐसी बहू जिस पर पूरा परिवार शत-प्रतिशत भरोसा कर सकता है। ऐसा नहीं है कि चुनावों में डिंपल को स्टार प्रचारक के रूप में उतारने की तैयारी एकाएक कर ली गई है। करीब छह महीने पहले से ही अखिलेश ने यह ठान लिया था कि डिंपल पार्टी की स्टार प्रचारक होंगी। सिनेमाघरों से लेकर सोशल मीडिया फोरम पर एक वीडियो वायरल हुआ था। जिसके बोल थे अखिलेश यादव बोल रहा हूं। इस विज्ञापन में न तो मुलायम हैं न शिवपाल और न ही रामगोपाल। इसमें अखिलेश हैं उनकी पत्नी डिंपल हैं और उनके तीनों बच्चे हैं। इसमें अखिलेश की छवि ऐसे सीएम के रूप में पेश की गई है जिसमें वह एक पारिवारिक व्यक्ति हैं और डिंपल एक आदर्श पत्नी और मां। डिंपल यादव और अखिलेश को लेकर जल्द ही कुछ और वीडियो और फोटो वायरल किए जाने की तैयारी है जिसमें में अन्य नेताओं से अलग नजर आएंगे। जो बोलते बहुत कम हैं लेकिन काम करते बहुत ज्यादा है। इन विज्ञापनों में दिखाया जाएगा कि अखिलेश और डिंपल कैसे उत्तर प्रदेश को अपना परिवार मानते हैं। और उसके विकास के लिए चिंतित हैं। सपा सूत्रों के मुताबिक अखिलेश यादव ने नई प्रचार सामग्री तैयार करवा ली है। इसमें अखिलेश के साथ सिंपल डिंपल दिखेंगी।

डिंपल और प्रियंका की जोड़ी उतरेगी मैदान में
सपा सूत्रों के मुताबिक सपा परिवार में मची कलह के बीच करीब चार बार डिंपल और प्रियंका गांधी के बीच फोन पर बात हुई है। माना जा रहा है कि चुनाव चिन्ह का मामला सुलटते ही दोनों महिलाओं के साथ व्यापक चुनाव प्रचार की रणनीति बनेगी। प्रियंका से जो बात हुई है उसके मुताबिक सपा का अखिलेश धड़ा यूपी की 403 सीटों में से करीब 300 सीट पर चुनाव लड़ेगी। 103 सीटों पर कांग्रेस और छोट-छोटे दल चुनाव लड़ेंगे। माना जा रहा है कि डिंपल यादव ने प्रियंका को इस बात के लिए मना लिया है कि यदि वे दोनों एक साथ मंच साझा करती हैं तो इससे एक अलग तरह का संदेश मतदाताओं में जाएगा। जल्द ही राहुल और अखिलेश और प्रियंका-डिंपल एक साथ रैलियां करेंगी।

एक ही घर में एक चूल्हे पर पकता था खाना
कभी लखनऊ में मुलायम परिवार का खाना एक ही घर में एक ही चूल्हे पर पकता था। ग्राउंड फ्लोर के दो कमरे में अखिलेश, डिंपल और उनके तीनों बच्चे रहते थे। पहली मंजिल पर मुलायम सिहं यादव और उनकी पत्नी साधना गुप्ता। व छोटे बेटे प्रतीक और प्रतीक की पत्नी अपर्णा रहती थीं। दीपावली पर अखिलेश अपने नए घर में चले गए। जब सब एक थे तब डिंपल के नेतृत्व में ही घर का खाना बनता था। तब सिंपल डिंपल एक आदर्श पत्नी, बहू और मां और भाभी के रोल निभाती थीं।

संभाली चुनाव प्रचार की कमान
अब डिंपल घरेलू महिला की छवि से बाहर आ चुकी हैं। वे एक तरफ जहां प्रियंका से चुनावी तालमेल बिठाने में जुटी हैं वहीं अखिलेश के चुनाव प्रचार की कमान भी खुद उन्होंने अपने हाथों में ले ली है। पढ़ी लिखी, विचारशील, विकासोन्मुखी, महिला की भूमिका से अलग अब डिम्पल का नया रूप सामने आया है जिसमें वह कुशल दूत के रूप में अपनी भूमिका निभा रही हैं। हालांकि 2009 में जब डिंपल यादव पहली बार चुनावी मैदान में उतरी थीं तब उनको बेहद गंभीरता से नहीं लिया गया था और वह उस उपचुनाव में फीरोजाबाद सीट से राज बब्बर से हार गई थीं। लेकिन तब से लेकर अब तक बहुत पानी बह चुका है। ङ्क्षडपल ने बहुत राजनीतिक उतार-चढ़ाव देख लिए हैं। अब वह एक परिपक्व नेता बन चुकी हैं। कहा जा रहा है कि अब तक चुप रहने वाली डिंपल बहुत कुछ बोलेगी जिसे जनता तो सुनेगी ही उनके स्वसुर और सपा नेता मुलायम सिंह यादव भी सुनेंगें।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???