Patrika Hindi News

आज के दिन करें यह काम जाने शुक्रवार के टोटके

Updated: IST Friday Vrat
बदल जाएगी दुनिया

लखनऊ , शुक्रवार का दिन माता लक्ष्मी का कहा जाता हैं इस दिन कुछ बातो को ध्यान में रखते हुए अपने दुर्भाग्य को बदलने सकते हैं | पंडित शक्ति मिश्रा कहते हैंकि माता लक्ष्मी को बहुत ही आसानी से किया जा सकता हैं | उन्होंने बतायाकि अपने कल्याण के इच्छुक व्यक्ति को बुधवार व शुक्रवार के अतिरिक्त अन्य दिनों में बाल नहीं कटवाने चाहिए | शुक्रवार के दिन छौरकर्म करने से लाभ और यश की प्राप्ति होती है ,पूर्व वा उत्तर की ओर मुँह करके बाल या दाढी बनवानी चाहिए | इससे आयु की वृद्धि होती है | बाल या दाढ़ी बनवाकर बिना नहाये रहना आयु का नाश करनेवाला है |

विक्रम संवत् - 2074,संवत्सर - साधारण, शक - 1939, अयन - उत्तरायण, गोल - उत्तर, ऋतु - वसन्त

मास - वैशाख, पक्ष- कृष्ण,तिथि - दशमी रात्रि 12:26 बजे तक तदुपरि एकादशी।नक्षत्र- धनिष्ठा रात्रि 10:35 बजे तक तदुपरि शतभिषा।योग - शुभ दिन 09:37 बजे तक तदुपरि शुक1

दिशाशूल - शुक्रवार को पश्चिम दिशा और नैऋत्यकोण का दिशाशूल होता है यदि यात्रा अत्यन्त आवश्यक हो तो जौ का सेवनकर प्रस्थान करें ।

राहुकाल (अशुभ) - दिन 10:30 बजे से 12:00 बजे तक।

सूर्योदय - प्रातः 05:41।

सूर्यास्त - सायं 06:29।

पर्व त्यौहार- पंचेशानी यात्रारम्भ, अग्निवास, भद्रा पाताल में।

मुहूर्त-> दशमी को कलम्बी (करेमू)खाने से वंशनाश होता है।


पंडित शक्ति मिश्रा ने बतायाकि इस मन्त्र को जपने से आप अपनी हर समस्या का समाधान कर सकते हैं

मंत्र: ऐं ह्रीं श्रीं अष्टलक्ष्मीयै ह्रीं सिद्धये मम गृहे आगच्छागच्छ नमः स्वाहा।।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???