Patrika Hindi News

दो बहनों की हत्या का राज़ बरकरार, अपराधियों तक नहीं पहुंच सकी पुलिस, करीबियों पर नज़र

Updated: IST Gudamba Double Murder
सगी बहनों के दोहरे हत्याकांड मामले में पुलिस खाली हाथ।

लखनऊ. गुडंबा थाना क्षेत्र में हुई सगी बहनों के दोहरे हत्याकांड मामले में पुलिस अब तक खाली हाथ है। पुलिस बुर्जुग बहनों की हत्या को संपत्ति विवाद की नज़र से देख रही हैं। साथ ही कई करीबियों को अपने रडार पर ले रखा है। हालांकि अभी तक पुलिस इस हत्याकांड की असली मकसद और हत्यारों का खुलासा करने में नाकाम है।

रविवार सुबह गुड़बा थानाक्षेत्र के बजरंग विहार स्थित अपने निजी आवास में दो सगी बहनों की हत्या का मामला सामने आया था। संदल श्रीवास्तव (45) व जुग्गन श्रीवास्तव उर्फ केशर (65) आवास में अकेले ही रहती थी। दोनों बहनों के 4 भाई है। इनमें से बड़े भाई कुंजबिहारी लाल की कुछ महीने पहले मृत्यु हो गई। जो कि दोनों बहनों के साथ लखनऊ में ही रहते थे। उनके तीन भाईयों में से सीबी लाल गाजियाबाद अपने परिवार के साथ है, मन्नी लाल परिवार के साथ फैजाबाद में रहते है, और अंजनी श्रीवास्तव लखनऊ के जानकीपुरम सेक्टर एच में परिवार के साथ रहते है। अंजनी बजरंग बिहार में बहनों के घर में अपना साइबर कैफे चलाते है। अंजनी श्रीवास्तव ने ही रविवार सुबह पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी की उनकी दोनों बहनों की निर्मम हत्या कर दी गयी है।

दम घुटने से हुई मौत

पुलिस के मुताबिक दोनों बहनों की मौत का कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दम घुटना सामने आया है। आशंका जताई जा रही है कि तकिया से मुंह दबाकर दोनों को मौत के घाट उतारा गया। हत्या के बाद अपराधी ने घर में अन्य चीजें नहीं उठाई। लेकिन फारेंसिक टीम को शक है कि यह केवल एक आदमी का काम है।

करोड़ो का मकान जान का दुश्मन

स्थानीय सूत्रों के मुताबिक दोनों बहने जिस मकान में रहती थी, उसकी कीमत करोड़ों की है। आस-पास के लोगों ने पूछताछ में आशंका जाहिर की प्रॉपर्टी के विवाद को लेकर उनकी हत्या हो सकती है। इसके बाद पुलिस ने कई करीबियों पर शिकंजा कसना शुरु कर दिया है। लेकिन अभी तक उनके हाथ कोई ठोस सबूत नहीं लगे हैं। सीओ गाजीपुर का कहना है कि मामले की जांच चल रही है। जल्द आरोपी को पकड़ लिया जाएगा।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???