Patrika Hindi News

इस धर्मगुरु ने पहले ही बता दिया था कि रामनाथ कोविंद राष्ट्रपति बनेंगे

Updated: IST rambhadracharya
बिहार में मुलाकात होने पर रामनाथ कोविंद को आशीर्वाद देते हुए कहा था कि जल्द ही देश का बड़ा संवैधानिक पद संभालना है। उस वक्त संत के आशीर्वाद को रामनाथ कोविंद और उनके साथ मौजूद एक राज्यसभा सांसद ने हंसकर टाल दिया था।

लखनऊ. भविष्यवाणियां सच होती हैं। जिन्हें आंखों से दिखता नहीं, जन्मांध हैं, लेकिन ईश्वरीय शक्ति से उन्हें भविष्य का आभास होने लगता है। चित्रकूट से नाता रखने वाले प्रसिद्ध धर्मगुरु रामभद्राचार्य महाराज ने डेढ़ महीने पहले एक कथा के दौरान बिहार में मुलाकात होने पर रामनाथ कोविंद को आशीर्वाद देते हुए कहा था कि जल्द ही देश का बड़ा संवैधानिक पद संभालना है। उस वक्त संत के आशीर्वाद को रामनाथ कोविंद और उनके साथ मौजूद एक राज्यसभा सांसद ने हंसकर टाल दिया था। अब संत की भविष्यवाणी सत्य हुई तो राज्यसभा सांसद ने संत से मिलने के लिए वक्त मांगा है। संत इस समय लखनऊ में कथा सुना रहे हैं।

3 मई को सीतामढ़ी जिले में हुई थी भविष्यवाणी

बीजेपी उपाध्यक्ष और राज्यसभा सांसद प्रभात झा ने बताया कि डेढ़ महीने पहले बिहार के सीतामढ़ी जिले में चित्रकूट के प्रसिद्ध संत जगतगुरु रामभद्राचार्य महाराज कथा सुनाने आए थे। इसी दौरान 3 मई को बिहार के राज्यपाल और अब राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के साथ वह संत से आशीर्वाद लेने गए थे। सीतामढ़ी को सीता माता कीजन्मस्थली के रूप में मान्यता प्राप्त है। मुलाकात के दौरान रामभद्राचार्य महाराज ने रामनाथ कोविंद को आशीर्वाद देते हुए कहा था कि जल्द ही देश के बड़े संवैधानिक पद को संभालना होगा। उस वक्त रामनाथ कोविंद ने संत के वचन को हंसकर टाल दिया था।

आजकल लखनऊ में कथा सुना रहे हैं रामभद्राचार्य महाराज

जन्म से नेत्रहीन रामभद्राचार्य महाराज ने चित्रकूट में विकलांग विश्वविद्यालय भी संचालित करते हैं। रामभद्राचार्य महाराज आजकल लखनऊ के गोमतीनगर विस्तार में वरदान खंड में कथा सुना रहे हैं। सात दिवसीय कथा में रोजाना सैकड़ों लोग श्रीराम कथा सुनने पहुंच रहे हैं।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???