Patrika Hindi News
Bhoot desktop

UP Election 2017: दिग्गजों ने झोंकी ताकत : सबका दावा हम जीतेंगे उत्तर प्रदेश

Updated: IST UP Election 2017
गुरुवार को उत्तर प्रदेश में सभी दलों के बड़े नेताओं ने चुनावी जनसभाओं में मतदाताओं से वोट की अपील करते हुए खुद की जीत का दावा किया...

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में गुरुवार का दिन रैलियों के नाम रहा। सूबे के हर छोर को सभी दलों के दिग्गजों ने संभाले रखा। फिरोजाबाद में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने चार रैलियों में जनता से वोट की अपील की तो गठबंधन के सहयोगी कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सीतापुर और हरदोई में चुनावी माहौल गरमाया। हरदोई के सिएशन डिग्री कॉलेज से जीत की हुंकार भरने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बाराबंकी में विशाल जनसभा को संबोधित किया। फर्रूखाबाद में केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह भाजपा को बेदाग बताते हुए सपा, बसपा और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। आइए पांच-पांच बिंदुओं के जरिए जानते हैं बड़े नेताओं के जनसभाओं की खास बातें।

नरेंद्र मोदी (प्रधानमंत्री)
यूपी में काम नहीं कारनामा बोलता है।
गठबंधन का इरादा लोगों का भला करने का नहीं है।
शांति चाहिए तो कानून का जिम्मेदारी से पालन होनी चाहिए।
यूपी की जनता मेरी माई बाप, ये गोद लिया बेटा पूरे करेगा सपने।
सरकार बनने के बाद पहली मीटिंग में किसानों का कर्ज माफ।

राहुल गांधी (कांग्रेस उपाध्यक्ष )
15 लाख की तरह मोदी का किसानों का कर्ज माफी का भी वादा झूठा है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी कर पूरे देश को लाइन में खड़ा कर दिया।
स्थानीय रोजगार पर नहीं दिया जा रहा ध्यान, फिर कैसे बनेगा मेक इन इंडिया।
हम चाहते हैं भारता का उत्पाद चाइना में बिके और पैसा यहां आए।
पूरे देश को झाड़ू पकड़ाकर विदेश चले गए प्रधानमंत्री।

अखिलेश यादव (मुख्यमंत्री)
समाजवादी पार्टी ने उत्तर प्रदेश का चौतरफा विकास किया है।
कांग्रेस का हाथ सपा के साथ आने से साइकिल की रफ्तार बढ़ गई है।
अब मन की बात छोड़कर काम की बात करें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।
पहले चरण के बाद ही बसपा अब विपक्ष में बैठने को तैयार है।
भाजपा ने झूठे वादे कर लोगों को गुमराह किया है।

राजनाथ सिंह (केंद्रीय गृहमंत्री)
आजादी के सत्तर साल बाद यूपी की वजह से भाजपा को बहुमत मिला।
सपा-बसपा और कांग्रेस पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे।
भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर कभी घोटालों के आरोप नहीं लगे।
नेता ऐसा होना चाहिए कि आरोप लगे तो पद छोड़ दे।
भारत का मस्तक अटल बिहारी वाजपेयी औ नरेंद्र मोदी ने ऊंचा किया है।

रैलियों का गुरुवार
इन बड़े नेताओं के अलावा भाजपा के योगी आदित्यनाथ, कलराज मिश्र, उमा भारती, केशव प्रसाद मौर्य और अमित शाह और कांग्रेस के राज बब्बर, गुलाम नबी आजाद, प्रमोद तिवारी ने जनसभाओं को संबोधित किया। इनके अलावा बसपा के नसीमुद्दीन सिद्दीकी और एआईएमआईएम के असदुद्दीन ओवैसी के अलावा अन्य नेताओं ने जनता से अपनी पार्टी के पक्ष में वोट की अपील की।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???