Patrika Hindi News

रामनाथ कोविंद के लिए बड़ी खुशखबरी, समाजवादी पार्टी में हो सकती है क्रॉस वोटिंग

Updated: IST akhilesh yadav
राष्ट्रपति चुनाव में समाजवादी पार्टी को नई मुसीबत का सामना करना पड़ सकता है। दरअसल ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि राष्ट्रपति चुनाव के दौरान सपा में क्रॉस वोटिंग हो सकती है।

लखनऊ. देश के 14वें राष्ट्रपति के लिए तिलक हॉल में मतदान शुरू हो चुका है। मतदान शाम 5 बजे तक चलेगा। मतदान के बाद फाइनल हो जाएगा कि रामनाथ कोविंद और मीरा कुमार में से कौन भारत का 14वां राष्ट्रपति बनेगा। हालांकि अगर नंबर की बात करें तो इस मामले में रामनाथ कोविंद काफी आगे दिख रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ राष्ट्रपति चुनाव में समाजवादी पार्टी को नई मुसीबत का सामना करना पड़ सकता है। दरअसल ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि राष्ट्रपति चुनाव के दौरान सपा में क्रॉस वोटिंग हो सकती है।

सपा में हो सकती है क्रॉस वोटिंग

राष्ट्रपति चुनाव को लेकर समाजवादी पार्टी के बाईकमान ने सपा के सासंदों और विधायकों निर्देश जारी किया है। हाईकमान का निर्देश है कि सपा के सभी सांसद और विधायक मीरा कुमार के लिए वोट करें। वहीं दूसरी तरफ राष्ट्रपति चुनाव समाजवादी पार्टी के भीतर क्रॉस वोटिंग की आशंका भी बढ़ गई है। दरअसल सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल यादव पहले ही एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को समर्थन की बात कर चुके हैं। साथ ही आपको बता दें कि सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव रामनाथ कोविंद के सम्मान में आयोजित भोज कार्यक्रम में शामिल हुए थे। जिससे इस बात के कयास लगाए जा रहे हैं कि सपा में क्रास वोटिंग हो सकती है और निश्चित तौर पर इसका फायदा राम नाथ कोविंद को होगा। वहीं सपा को राज्यसभा में क्रास वोटिंग का झटका लग सकता है। सूत्रों की अगर मानें तो राज्यसभा के 3 सदस्य सपा के खिलाफ मतदान कर सकते हैं।

20 जुलाई को होगी मगणना

राष्ट्रपति चुनाव के लिए प्रेक्षक नियुक्त किए गए हैं, साथ ही पूरी निर्वाचन प्रक्रिया की वीडियोग्राफी भी की जा रही है। राष्ट्रपति चुनाव को पूरी तरह से गोपनीय रखा गया है। आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा के सदस्यों के वोट का मूल्य 208 और लोकसभा और राज्यसभा सदस्यों के मत का मूल्य 708 निर्धारित है। वोटिंग के दौरान हर मतदाता को प्रत्याशी के आगे अंकों में 1 या 2 लिखना होगा। मतदाता को मतदेय स्थल पर मोबाइल और पेन ले जाने की भी मनाबी है। मतदान के दौरान निर्वाचन आयोग मतदाता को एक खास किस्म का वॉयलेट पेन दे रहा है। इसी वॉयलेट पेन से ही मतदाता राष्ट्रपति चुनाव में अपनी वरीयता अंकित कर रहे हैं। सासदों के लिए हरा और विधायकों के लिए गुलाबी रंग का मत पत्र रखा गया है। साथ ही आपको बता दें कि मतदान पूरा होने के बाद आज ही मत पेटियों को प्लेन के द्वारा दिल्ली भेजा जाएगा। मत पेटियों को संसद भवन के रूम नंबर 62 में रखा जाएगा। 20 जुलाई को राष्ट्रपति चुनाव के वोटों की गिनती होगी और 25 जुलाई को शपथग्रहण होगा।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???