Patrika Hindi News

Agra-Lucknow Expressway से SP होगी मजबूत, विपक्षी दलों को लग सकता है झटका,जानिये कैसे

Updated: IST agralucknow express way
राजनीतिक पंडितों के मुताबिक़ लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे से सपा ने प्रदेश की उन विधानसभा सीटों पर अपनी मजबूत पकड़ जरूर बना ली है, जिन जिलों से होकर ये गुजरा है।

Rohit Singh

लखनऊ। समाजवादी पार्टी की महत्वाकांक्षी योजनाओं में शामिल लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे आने वाले विधानसभा चुनाव में सपा को कितना लाभ पहुंचा पायेगी, ये तो चुनाव के बाद ही पता चलेगा लेकिन अपनी हर सभा, रैली में में इस योजना का जमकर प्रचार करने वाली सपा ने इससे अपनी सियासी जमीन जरूर मजबूत कर ली है।

राजनीतिक पंडितों के मुताबिक़ लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे से सपा ने प्रदेश की उन विधानसभा सीटों पर अपनी मजबूत पकड़ जरूर बना ली है, जिन जिलों से होकर ये गुजरा है। इसके साथ ही उन सीटों की नींव को जरूर हिला दिया है, जिन पर विपक्षी पार्टियों का कब्जा है।

9 जिलों से होकर गुजरा है एक्सप्रे-वे

लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस 302 किमी की दूरी के साथ देश का सबसे लम्बा एक्सप्रेस वे है। यह प्रदेश के 9 जिलों से होकर गुजरा है। जिसके रास्ते में प्रदेश की 52 विधानसभा सीटें पड़ती हैं। जिसमें 29 पर समाजवादी पार्टी का, 11 पर बसपा का, 10 पर भाजपा का और कानपुर की एक सीट पर कांग्रेस काबिज है।

सियासी परिदृश्य से देखें तो 52 विधानसभा सीटों पर सपा सबसे हावी है और उसके पास सबसे ज्यादा 29 सीटें हैं। सबसे बड़ी बात ये है कि सपा से लोकसभा पहुंचे 5 सांसद भी एक्सप्रेस वे के परिक्षेत्र में आते हैं।

इन उद्योगों को मिलेगा लाभ

लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे के राजनीतिक परिणाम क्या होंगे ये तो समय बतायेगा लेकिन इससे प्रदेश के मुख्य उद्योगों को गति जरूर मिलेगी। जिसमें कन्नौज का इत्र उद्योग, आगरा-कानपुर का चमड़ा उद्योग, फिरोजाबाद का कांच उद्योग, मैनपुरी का तम्बाकू उद्योग सीधे बड़े बाजारों से जुड़ेंगे।

पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा

इस एक्सप्रेस-वे ने दिल्ली और लखनऊ के बीच की दूरी को बहुत कम कर दिया है। जिससे प्रदेश के पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। इसके अलावा सरकार खुद के प्रयासों से एक्सप्रेस वे के किनारे आधुनिक कृषि मंडियां और फिल्म सिटी बना रही है। जो प्रदेश के विकास को एक नई गति प्रदान करेगा।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???