Patrika Hindi News

कुछ न बोलकर बहुत कुछ बोल गए अखिलेश

Updated: IST Akhilesh Yadav
समाजवादी पार्टी में चल रही अन्दरुनी विवाद कई लोगांे की कोशिशों के बाद भी अभी खत्म नहीं हुआ है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज “मैं कुछ नहीं बोलूंगा” कहकर भी बता दिया कि पार्टी में अभी सब कुछ ठीक नहीं है।

लखनऊ.समाजवादी पार्टी में चल रही अन्दरुनी विवाद कई लोगांे की कोशिशों के बाद भी अभी खत्म नहीं हुआ है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज “मैं कुछ नहीं बोलूंगा” कहकर भी बता दिया कि पार्टी में अभी सब कुछ ठीक नहीं है। खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत राशन कार्ड वितरण समारोह में उनसे पूछा गया था कि क्या आप पांच नवम्बर को जनेश्वर मिश्र पार्क में आयोजित सपा के रजत जयन्ती समारोह में शामिल होंगे। इस पर उन्होंने पहले तो काफी टाल मटोल की बाद में मीडिया द्वारा अधिक दबाव बनाने पर कहा अभी मैं कुछ नहीं बोलूंगा। फिर उनसे सवाल पूछा गया कि पार्टी के प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में शामिल होंगे या नहीं। इस पर भी सीधा जवाब देने की जगह कहा कि आपको तो पता है बैठक में कौन लोग जाते हैं।

22 अक्टूबर की बैठक में नहीं जाएंगे अखिलेश
समाजवादी पार्टी की राज्य कार्यकारिणी की बैठक 22 अक्टूबर को होने वाली है। बता दें कि शिवपाल यादव के प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद सपा की नई कार्यकारिणी का गठन 6 अक्टूबर को किया गया। नई कार्यकारिणी में मुख्यमंत्री के करीबी लोगों को जगह नहीं दी गई जबकि पुरानी कार्यकारिणी में अखिलेश टीम के तमाम लोग थे। खास बात यह रही कि सीएम अखिलेश यादव को भी राज्य कार्यकारिणी में विशेष आमंत्रित सदस्य तक नहीं बनाया गया। इसलिए माना जा रहा है कि अखिलेश भी बैठक में नहीं जाएंगे। क्योंकि वे कार्यकारिणी के सदस्य नहीं हैं।

हम मुख्यमंत्री और नेताजी के साथ हैंः सुनील यादव
अखिलेश यादव की युवा ब्रिगेड के कई लोगों को सपा से निष्कासित कर दिया गया था। निकाले गये लोगों में तीन विधान परिषद सदस्य भी शामिल हैं। इनमें से एक सुनील यादव आज मुख्यमंत्री के कार्यक्र में मौजूद थे। उन्होंने पत्रिका से बातचीत में कहा कि वे लोग बगैर किसी कारण के पार्टी से निकाले गए हैं। निकाले गए सभी लोग पार्टी अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ हैं।

हमें प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव से कोई शिकायत नहीं
सुनील यादव ने कहा कि कुछ लोग अनावश्यक उन लोगों पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव के खिलाफ होने का आरोप लगाते हैं जबकि सच्चाई है कि शिवपाल सिंह यादव का सभी सम्मान करते हैं और उनसे कोई शिकायत नहीं है लेकिन उन्होंने यह नहीं बताया कि शिकायत किससे है। पार्टी में लगातार उठापटक क्यों हो रही है।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???