Patrika Hindi News
UP Election 2017

डेंगू को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने हाईकोर्ट में बोला था झूठ, हुआ खुलासा

Updated: IST A patient has dengue.
फटकार के बाद स्वास्थ्य विभाग विभाग के अफसरों ने डेंगू से होने वाली मौतों का आंकड़ा 67 जुटाया था लेकिन कोर्ट में केवल 9 मौतें दिखाई।

लखनऊ। प्रदेश में डेंगू के प्रकोप को लेकर स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने सरकार से लेकर कोर्ट में तक झूठे आंकड़ें पेश किये। जिससे हर स्तर पर आम आदमी को तकलीफ झेलनी पड़ी। स्वास्थ्य विभाग के झूठे आंकड़ों का खुलासा खुद लखनऊ सीएमओ एसएनएस की रिपोर्ट से हुआ है। अपनी नाकामी को छिपाने के लिए अफसरों ने हाईकोर्ट में झूठ बोला। जिसके बाद अदालत ने विभाग के अफसरों को फटकार लगाते हुए सही रिपोर्ट पेश करने को कहा। फटकार के बाद स्वास्थ्य विभाग विभाग के अफसरों ने डेंगू से होने वाली मौतों का आंकड़ा 67 जुटाया था लेकिन कोर्ट में केवल 9 मौतें दिखाई।

बता दें कि लखनऊ सीएमओ के पास डेंगू से होने वाली मौतों का आंकड़ा 31 है लेकिन केवल इस वजह से विभाग के अफसर मौत का कारण डेंगू मानने के लिए तैयार नहीं हैं क्योंकि मरीजों की एलाइजा जांच नहीं हुई थी। हालांकि इन सभी के कार्ड टेस्ट में डेंगू की पुष्टि हो चुकी थी।

स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि विभाग के अधिकारी अपनी जिम्मेदारी से बचने के लिए डेंगू से मौतों का आंकड़ा छिपा रहे हैं। कार्ड और एलाइजा टेस्ट का नियम स्वास्थ्य विभाग का होने के साथ ही मौतों की सही जानकारी देना भी उसी की जिम्मेदारी है।

तमाम मरीजों के कार्ड टेस्ट में डेंगू की पुष्टि हुई थी लेकिन उनकी एलाइजा जांच न हो पाने के कारण डेंगू से मौत मानने से इनकार कर दिया गया। अफसरों ने हाईकोर्ट में पेशी के दौरान अपनी ही रिपोर्ट में हेर-फेर किया है।

सरकारी आंकड़ों में डेंगू

- उत्तर प्रदेश में 9079 लोग डेंगू से पीड़ित हैं।

- जिसमें 642 लोग लखनऊ में पीड़ित हैं।

- निजी और सरकारी अस्पतालों में डेंगू से 196 मौतें होने की बात कही गयी है।

इस बारे में प्रमुख सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य एके सिन्हा का कहना है कि कार्ड टेस्ट में पॉजिटिव का मतलब डेंगू नहीं होता। इसलिए कार्ड टेस्ट करवाते हैं। 30 हजार कार्ड टेस्ट की जांच में 9 हजार केसेज में डेंगू पॉजिटिव आया है। अब प्राइवेट अस्पतालों का डाटा भी कलेक्ट किया जा रहा है।

वही लखनऊ नर्सिंग होम एसोसिएशन के अध्यक्ष अनूप कुमार ने कहा कि एलाइजा और कार्ड टेस्ट की आड़ में स्वास्थ्य विभाग अपनी नाकामी छुपा रहा है।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???