Patrika Hindi News
Bhoot desktop

Video Icon कैदी की हुई बेहरमी से पिटाई

Updated: IST Mahoba Prisoner
कैदी की इतनी बेहरमी से पिटाई की गई है कि उसे अंदरूनी चोटें आई हैं।

महोबा. जिला उपकारागार विवादों के चलते हमेशा चर्चा में बना रहता है। कैदियों पर आये दिन सितम ढाये जाने की खबरें आती रहती हैं। आज फिर एक सजायाफ्ता कैदी को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कैदी की इतनी बेहरमी से पिटाई की गई है कि उसे अंदरूनी चोटें आई हैं। जेलर ने जेल के लंबरदारों से कैदी की जमकर पिटाई कराई। कैदी का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने जुर्माने के पैसे जेलर को दिए थे जो जेलर कोर्ट में जमा करने के स्थान पर हजम कर गया और जब कैदी ने पूछा तो उसे ये सजा मिली।

महोबा जिला उपकारागार अपने विवादित कारनामों के लिए हमेशा सुर्ख़ियों में बना रहता है। जेल के अंदर कैदियों के साथ मारपीट होना आम बात है तो वहीँ कैदियों से पैसे वसूलने जैसे मामले भी सामने आ चुके हैं। एक बार फिर महोबा जेल में एक कैदी के साथ मारपीट हुई है। आरोप है कि उपजिलाकारगर के जेलर गोविंदराम वर्मा ने जेल के लंबरदारों से सजायाफ्ता कैदी ज्ञान सिंह की पट्टो और लाठियों से पिटाई कराई है। यहीं नहीं कैदी की हालत गंभीर होने पर उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

दरअसल महोबा शहर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम भटेवर निवासी ज्ञान सिंह पर चोरी और 307 का मुकदमा दर्ज है। इसी मामले में उसे न्यायालय ने सजा सुनाई थी जिसमें 4 वर्ष की सजा और 6 हजार रुपये का जुरमाना भी था। कैदी ने अपनी सजा पूरी कर ली और जेलर को जुर्माने की रकम 6 हजार रुपये कोर्ट में जमा करने के लिए दे दी, मगर आज तक जेलर ने उस पैसे को कोर्ट में जमा नहीं किया और कैदी आज भी जेल में है। इसी बात को लेकर जब कैदी ज्ञान ने जेलर गोविन्द राम ने पूछा तो उसे जेलर ने शरीर पर जख्म दिए। जेलर ने अपने सामने लंबरदारों से कैदी की पिटाई करा दी। घायल होने पर कैदी को इलाज के लिए जिला अस्पातल में भर्ती कराया गया।

कैदी की माने तो यदि उसका जुर्माना जमा हो जाता तो जेल से बाहर होता। मगर जेलर ने उस पैसे को हजम कर लिया। इस पूरे मामले को लेकर जब हमने जेलर से मिलना चाहा तो उसने कुछ भी बोलने से मना कर दिया।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???