Patrika Hindi News
Bhoot desktop

Video Icon 45 वर्ष की उम्र में गाय की मौत, रीति-रिवाज से किया अंतिम संस्कार

Updated: IST 45 years old cow, cow funeral
इस गाय को 1986 में 1500 रुपए में खरीदा गया था। परिवार की मानें तो गाय की उम्र 45 साल थी।

मैनपुरी। जिले के मकरंदपुर गांव में एक गाय की मौत होने पर ग्रामीणों ने हिन्दू रीति रिवाज के साथ उसका अंतिम संस्कार किया। गाय को अंतिम विदाई देते वक्त सभी की आंखों में आंसू छलक आए। थाना किशनी के मकरंदपुर निवासी पूर्व अध्यापक शिव सिंह राठौर ने इस गाय को 1986 में 1500 रुपए में खरीदा था। शिव सिंह की मानें तो गाय की उम्र 45 साल थी।

कई दिनों से बीमार थी गाय

शिव सिंह ने बताया कि पिछले दस सालों से गाय ने दूध देना बंद कर दिया था। इसके बावजूद शिव सिंह और उसका पूरा परिवार गाय को महज जानवर नहीं बल्कि घर के एक सदस्य का दर्ज देता था। उन्होंने बताया कि गाय कई दिनों से बीमार थी। उसका काफी इलाज कराया गया लेकिन बुधवार सुबह गाय की मौत हो गई।

हिन्दू रीति रिवाज से किया अंतिम संस्कार

परिवार ने गाय को 30 साल तक एक सदस्य की तरह पाला। उसकी मौत के बाद घर के सभी सदस्यों ने विधि विधान के साथ उसका अंतिम संस्कार करने का फैसला किया। ग्रामीणों के साथ मिलकर गाय की शव यात्रा निकाली गई और गांव के बाहर उसका दाह संस्कार कर दिया गया।

गाय की उम्र से डॉक्टर हैरान

पशु चिकित्सक के मुताबिक, एक स्वस्थ गाय की औसतन उम्र 18 से 20 वर्ष ही होती है। लेकिन शिवसिंह के की मानें तो गाय की उम्र करीब 45 वर्ष हो चुकी थी, जो कि बेहद आश्चर्यजनक है। डॉक्टर का कहना है कि अगर गाय की उम्र 45 वर्ष थी तो निश्चित ही गाय की सेवा बेहद अच्छे ढंग से की गई होगी।

वीडियो-

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???