Patrika Hindi News

2.58 करोड़ के महाविद्यालय भवन में तीसरी वर्षगांठ से पूर्व ही पडऩे लगी दरारें

Updated: IST mandsaur news
लिखित आवेदन और मौखिक शिकायतों के बाद भी ध्यान नही

रतलाम/मंदसौर.

गरोठ के शासकीय शिवनारायण महाविद्यालय भवन की 16 फरवरी को तीसरी वर्षगंाठ थी। आज से तीन वर्ष पूर्व ही इस भवन का उद्घाटन हुआ था। लेकिन यह भवन तीसरे वर्ष में प्रवेश करने के पूर्व ही क्षतिग्रस्त होने लगा है। भवन के अंदर और बाहरी दिवारों पर मोटी दरारें होने लगी है। साथ ही प्लास्टर भी खुल रहा है। महाविद्यालय के जिम्मेदारों द्वारा गुणवत्ताहीन निर्माण और भवन में पड़ रही दरारों को लेकर कई बार संबंधित विभाग को मौखिक और लिखित रूप से शिकायत करने के बाद भी इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा। साथ ही इस भवन की मरम्मत करने के लिए जहमत तक नहीं उठाई जा रही है।

2.58 करोड़ से हुआ था भवन निर्माण

महाविद्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस भवन का निर्माण लोकनिर्माण विभाग की देख-रेख में 2.58 करोड़ रूपए से करीब तीन वर्ष पहले हुआ था। इसके करीब डेढ़ वर्ष बाद ही इस भवन में अंदर और बाहर की दिवारों पर मोटी दरारें बनना शुरू हो गई थी। महाविद्यालय प्रबंधन द्वारा जब लोक निर्माण विभाग और ठेकेदार को इस समस्या के बारे में बताया तो खराब पानी का बहाना बनाकर बात को टाल दिया गया और आज तक स्थिती जस की तस है।

खुल रही प्लास्तर की परतें

भवन निर्माण में गुणवत्ताहीन मटेरियल उपयोग करने के कारण इस भवन के प्लास्टर की परतें खुलकर गिर रही है। साथ ही दीवारों पर मोटी दरारें चलने लगी। जो बढ़ती ही जा रही है। प्रबंधन द्वारा की गई शिकायतों पर आज तक किसी प्रकार से किसी जिम्मेदार ने इस ओर ध्यान नहीं दिया है।

डेढ़ वर्ष बाद से ही भेज रहे आवेदन

महाविद्यालय भवन में चल रही दरारों और खुल रही प्लास्टर की परतों को लेकर लोक निर्माण विभाग को भवन निर्माण के डेढ़ वर्ष बाद ही शिकायती आवेदन भेज दिया था। कई बार मौखिक और लिखित शिकायत के बाद भी अब तक कुछ नहीं हुआ।

एनके धनोतिया, प्रभारी प्राचार्य शासकीय शिवनारायण महाविद्यालय गरोठ।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???