Patrika Hindi News

नव निर्माण सेना के इस पोस्टर से कश्मीरी छात्रों में खौफ

Updated: IST kashmiri student
पुलिस-प्रशासन ने सुरक्षा मुहैया कराने का किया वादा, आरोपियों की धर पकड़ को दबिश

मेरठ। कश्मीर में चल रही उपद्रवी घटनाओं के विरोध में मेरठ में उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना द्वारा लगाए गए पोस्टर को लेकर प्रशासन अलर्ट हो गया है। गृह मंत्री के बयान के बाद प्रशासन ने सबसे पहले पोस्टर उतरवा दिया। जिसके बाद अमित जानी पर मुकदमा भी कायम करवा दिया गया है। अब पुलिस और प्रशासन के अधिकारी कश्मीरी छात्रों को सुरक्षा मुहैया कराने पहुंच गए हैं।

प्रशासन ने मुहैया कराई सुरक्षा

मेरठ स्थित सुभारती विश्वविद्यालय का में बड़ी संख्या में कश्मीरी छात्र—छात्राएं अलग-अलग कोर्सेज में पढ़ाई करते हैं। मेरठ में उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना द्वारा लगाए गए पोस्टर में सीधे तौर पर कश्मीरी लोगों को उत्तर प्रदेश छोड़ देने की धमकी दी गई थी। जिसके बाद से कश्मीर के लोगों के लिए मेरठ असुरक्षित हो गया था। कश्मीरी छात्रों को अपनी सुरक्षा को लेकर चिंता सता रही थी। लेकिन प्रशासन और पुलिस अधिकारियों के आने के बाद छात्रों ने राहत की सांस ली है। छात्रों की मानें तो कॉलेज कैंपस में केवल पढ़ाई करने के लिए आए हैं। लेकिन इसके अलावा कहीं आने—जाने पर उन्होंने रोक लगा ली है।

निशाने पर अमित जानी
उधर पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों ने कॉलेज के आसपास खुफिया विभाग सक्रिय कर दिया है। साथ ही कुछ फोर्स भी बढ़ा दी है। इसके अलावा पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने छात्रों को अपने नंबर भी बांट दिए हैं। उन्होंने कहा कि किसी भी तरह की असुरक्षा की भावना मन में ना लाएं। जल्द से जल्द अमित जानी की गिरफ्तारी कर ली जाएगी और उत्तर प्रदेश में कश्मीरी पूरी तरीके से सुरक्षित है।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???