Patrika Hindi News

Video Icon अस्‍पताल के बाहर तड़पती रही गैंगरेप पीड़िता, लेकिन किसी ने एक न सुनी

Updated: IST gangrape
देखिये वीडियो- गैंगरेप पीड़िता की आपबीती

मेरठ. मेरठ में चलती कार में एक महिला के साथ गैंगरेप की वारदात के बाद अस्‍पताल की घोर लापरवाही का मामला सामने आया है। पीड़िता का आरोप है कि वह अपने बच्‍चों के इलाज के लिए भीख मांग रही थी कि इसी दौरान कुछ लोग उसे कार में बिठाकर ले गए और चलती कार में गैंगरेप की वारदाता को अंजाम दिया। इतना ही नहीं पीड़िता के साथ अस्‍पताल में भी घोर लापरवाही बरती गई।

पीड़िता का आरोप है कि जब वह अस्‍पताल में पहुंची तो दो गोलियां थमा कर अस्पताल के डॉक्टरों ने उसे बाहर निकाल दिया। उसने बताया कि वह सुबह 10:00 बजे से अस्पताल के बाहर दर्द से तड़प रही है, लेकिन इसके बावजूद अस्पताल प्रशासन उसकी एक सुनने को तैयार नहीं है। डॉक्टर ने उसे ड्रामेबाज कहकर बाहर निकाल दिया है। जिसके बाद एक एनजीओ ने पीड़िता की मदद के लिए कदम आगे बढ़ाए और फिर जब मामला मीडिया तक पहुंचा तो महिला को भर्ती भी कर लिया गया।

दरअसल मामला मेरठ के थाना कंकरखेड़ा क्षेत्र के बेगमपुल चौराहे पर एक महिला अपने बच्चों के इलाज के लिए भीख मांग रही थी। जिसे कार सवारों ने जबरन अपनी कार में खींच लिया और फिर उसके साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दे डाला। महिला का देर रात मेडिकल भी कराया गया और अब उसे अस्पताल प्रशासन की बेरुखी का शिकार होना पड़ा। इस मामले में थाना कंकर खेड़ा में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। हालांकि डॉक्टरों के इस बर्ताव पर कार्रवाई होगी या नहीं यह तो समय बताएगा।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???