Patrika Hindi News
UP Election 2017

डीएम चंद्रकला के जिले में 'ईवीएम' की सुरक्षा पर उठे सवाल

Updated: IST B. Chandrakala
इस मौत के बाद उठ खड़ा हुआ ये सवाल...

मेरठ। मेरठ का इस समय सबसे सुरक्षित इलाका परतापुर कताई मिल में एक कर्मचारी का शव मिलने से सनसनी फैल गई। जिसकी सूचना मिलते ही जिला पुलिस प्रशासन के तमाम अधिकारी मौके पर पहुंच गए तथा उन्होंने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। एसपी सिटी आलोक प्रियदर्शी ने मामले की गंभीरता को देखते हुए डाॅग स्कवायड को भी मौके पर बुलवा लिया।

इस मौत के बीच ईवीएम की सुरक्षा पर भाजपा नेता ने सवाल खडे किए हैं।बता दें कि इस समय परतापुर कताई मिल में कड़ी सुरक्षा के बीच विधानसभा चुनाव की ईवीएम मशीन रखी हुई है। ऐसी जगह पर शव मिलने से अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ था।

घटना गुरुवार दोपहर की है। जब परतापुर कताई मिल में स्ट्रांग रूम (जहां ईवीएम रखी है) के सामने एक बिल्डिंग में एक शव पड़े होने की जानकारी मिलते ही एडीएम सिटी मुकेश चन्द्र व एसपी सिटी आलोक प्रियदर्शी अन्य अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंच गए। मृतक व्यक्ति की शिनाख्त वन विभाग के कर्मचारी किशन लाल निवासी कालियागढी के रूप में हुई।

जानकारी के मुताबिक किशनलाल बंदर भगाने के लिए छत पर चढ़ा था। जहां से गिरकर उसकी मौत हो गई। वहीं डीएम बी.चन्द्रकला द्वारा ईवीएम की सुरक्षा की दृष्टी से वहां पर भारी सुरक्षा बलों के जवानों के साथ-साथ निरन्तर 12-12 घंटे की डयूटी पर मजिस्ट्रटों को लगाया हुआ है। जो मतगणना तक निरन्तर डयूटी पर लगे रहेंगे।

हालांकि प्रशासनिक अधिकारियों ने शुक्रवार की घटना के बारे में कुछ भी कहने से इंकार कर दिया है। वहीं कताई मिल में हत्या की जानकारी मिलते ही राजनीतिक दलों के प्रत्याशी भी मौके पर पहुंचने लगे हैं। वहीं भाजपा नेता डॉ लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने कताई मिल की सुरक्षा पर सवाल उठाते हुए कहा कि जब यहां पर कर्मचारी की मौत हो सकती है तो फिर ईवीएम की क्या सुरक्षा होगी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???