Patrika Hindi News

अरुणाचल प्रदेश के तवांग में भूस्खलन से 17 की मौत

Updated: IST 16 killed in landslide in Arunachal Pradesh
अरुणाचल प्रदेश के तवांग जिले में बोमदिर के निकट भूस्खलन से भारी तबाही हुई है, हादसे में कम से कम 17 लोगों की मौत हो चुकी है

ईटानगर। अरुणाचल प्रदेश के तवांग जिले में बोमदिर के निकट भूस्खलन से भारी तबाही हुई है। हादसे में कम से कम 17 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि कई अन्य घायल हुए हैं। इनमें से 13 मृतक असम के बताए जा रहे हैं। भूस्खलन के मलबे में अभी भी कुछ लोग दबे हुए हैं, जिन्हें निकालने का काम जारी है। हादसे के तुरंत बाद स्थानीय लोगों ने प्रशासन को सूचना दी। जिसके बाद राहत और बचाव दल मौके पर पहुंचा। बचाव कार्य में तेजी लाने के लिए एनडीआरएफ की दो टीमों को भी घटनास्थल की ओर रवाना किया गया है।

तलाशी एवं बचाव अभियान का निरीक्षण कर रहे तवांग के पुलिस उपाधीक्षक ने बताया कि यह घटना तड़के हुई और पहाड़ का एक बड़ा हिस्सा श्रमिक शिविर पर गिर गया। उन्होंने बताया कि यह घटना उस समय हुई जब सभी श्रमिक गहरी नींद में सो रहे थे। ये सभी श्रमिक असम के रहने वाले थे और एक इमारत के निर्माण कार्य के लिए यहां आए हुए थे। उन्होंने बताया कि अब तक मौके से 16 शव बरामद कर लिए गए हैं और तलाशी अभियान चल रहा है। मृतकों की संख्या बढऩे की आशंका है। एक व्यक्ति को निकालकर निकटवर्ती अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पिछले कुछ दिन से हो रही लगातार बारिश के कारण अरुणाचल प्रदेश में भयावह स्थिति बनी हुई है।

राजनाथ ने कलिखो से बात की, अरूणाचल को मदद का आश्वासन

वहीं गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने अरूणाचल प्रदेश के तवांग में भूस्खलन के हादसे के बाद वहां के मुख्यमंत्री कलिखो पुल से बात कर स्थिति का जायजा लिया और उन्हें केन्द्र की तरफ से हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। कलिखो पुल ने फोन पर बातचीत में गृह मंत्री को भूस्खलन की घटना के बारे में जानकारी दी। सिहं ने उन्हें बताया कि राहत और बचाव अभियान के लिए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल की टीमें घटनास्थल पर भेजी जा रही हैं। सिहं ने मुख्यमंत्री से राज्य में बाढ से उत्पन्न स्थिति के बारे में भी जानकारी ली और उन्हें मदद का आश्वासन दिया। उल्लेखनीय है कि सिहं की अध्यक्षता में आज यहां हुई उच्च स्तरीय बैठक में अरूणाचल प्रदेश के लिए 84.33 करोड रूपए की राशि जारी करने का निर्णय लिया गया है।

पीएम मोदी और सोनिया ने दी श्रद्धांजलि

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अरूणाचल प्रदेश के तवांग में भूस्खलन में लोगों की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है। गांधी ने आज यहां एक बयान जारी कर इस हादसे पर दुख प्रकट किया। उन्होंने दुर्घटना में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की। उन्होंने राहत और बचाव अभियान तेजी से चलाये जाने की जरूरत पर बल देते हुए उम्मीद जताई कि इससे जानमाल के और नुकसान को बचाया जा सकेगा। उन्होंने राज्य के कांग्रेस विधायकों, पार्टी कार्यकर्ताओं से राहत और बचाव अभियान में मदद के लिए आगे आने को कहा।

दो दिन पहले भी हुआ था लैंडस्लाइड

बारिश के चलते असम और अरुणाचल में दो दिन पहले भी लैंडस्लाइड हुआ। कई रोड, स्कूल और इमारतों को नुकसान पहुंचा। बता दें कि असम, सिक्किम और अरुणाचल के कई इलाकों में पिछले एक हफ्ते से प्री-मानसून बारिश हो रही है। मुख्यमंत्री कालिखो पुल ने तवांग डिप्टी कमिश्नर से फामला गांव में हुई घटना की रिपोर्ट मांगी है। पीएमओ इंडिया ने ट्वीट कर लैंडस्लाइड में मारे गए लोगों के लिए संवेदना जाहिर की है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???