Patrika Hindi News

'दिल से निकलनी चाहिए भारत माता की जय, दबाव में नहीं'

Updated: IST Union Minister Ravi Shankar Prasad
सवाल का जवाब देते हुए कहा कि देश में वंदे मातरम और भारत माता की जय के नारे तो महान स्वतंत्रता सेनानी मौलाना अबुल कलाम आज़ाद के समय भी लगते थे

लखनऊ। केंद्रीय संचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि भारत माता की जय कहना देश की परंपरा है। लेकिन यह दिल से निकलनी चाहिए। प्रसाद शनिवार को वृन्दावन में साध्वी रितंभरा के वात्सल्य ग्राम में आयोजित नेत्र शिविर के समापन कार्यक्रम में सम्मिलित होने के लिए आए थे।

उन्होंने एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि देश में वंदे मातरम और भारत माता की जय के नारे तो महान स्वतंत्रता सेनानी मौलाना अबुल कलाम आज़ाद के समय भी लगते थे।

रविशंकर प्रसाद का कहना था कि भारत माता की जय हृदय से निकलती है, किसी के दबाव में नहीं। भारत मातृभूमि है, पुण्यभूमि है और यही देश की परंपरा है।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???