Patrika Hindi News

> > > DRDO has created a special chip for saving the lives of soldiers

DRDO ने बनाई स्पेशल चिप, सैनिकों की जान बचाने में होगी कारगर

Updated: IST DRDO has created a special chip
रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन तैयार कर रहा है,जवानों की सुरक्षा कवच के रूप में एक चिप

नई दिल्ली। भविष्य में सेना के जवानों पर दुश्मन अचानक हमला नहीं कर पाएगा क्योंकि उनकी हर गतिविधियों से जवानों को पूर्व में ही जानकारी मिल जाएगी। इस संबंध में जवानों की सुरक्षा कवच के रूप में एक चिप तैयार की जा रही है। यह चिप जवान को हर प्रकार के हमले से आगाह करेगी। यह चिप दुर्गम इलाकों में तैनात जवानों को मौसम के तेजी से बदलते के बारे में जानकारी के साथ ऐसे सिग्नल भी देगी कि कौन सा रास्ता उनके लिए सुगम और सुरक्षित होगा। इस चिप पर शोध रक्षा मंत्रालय के रक्षा अनुसंसाधन एवं विकास संगठन यानी डीआरडीओ द्वारा किया जा रहा है। हालांकि अभी इस संबंध में डीआरडीओ की ओर से कोई अधिकृत जानकारी नहीं दी गई है।

धोखे से जवानों पर हो रहे हमले
पिछले डेढ़ दशकों में देश के विभिन्न आतंकी इलाकों में तैनात सेना के जवान अनेक बार धोखे से आतंकी हमलों के शिकार हुए हैं। इस बात को ध्यान में रखते हुए ही डीआरडीओ के रक्षा वैज्ञानिक इस प्रकार की चिप के निर्माण की तैयारी में जुटे हुए हैं। माना जा रहा है कि सेना के जवानों को सुरक्षा के लिए हर प्रकार से लैस किया जाएगा। हालांकि उनके शरीर पर हर प्रकार सुरक्षा जैकेट से लेकर अन्य सुरक्षा उपकरण भी लगे होते हैं लेकिन उनकी यह सब तैयारी बेकार हो जाती है जब दुश्मन या आतंकी अचानक उन पर हमला कर देते हैं। विशेष कर जब वे सो रहे होते हैं या आराम कर रहे होते हैं। रक्षा मामलों से जुड़े जानकारों का कहना है कि इस प्रकार की चिप जवान को हर आने वाले गतिविधियों से न केवल अवगत कराएगी बल्कि उनकी सुरक्षा में भी एक मील का पत्थर साबित होगी।

चिप एक बड़े क्षेत्र को कवर करेगी
यह चिप जवान के आसपास के एक निश्चित इलाके को कवर करेगी और कवरेज इतना होगा कि जवान अपनी पोजिशन ले सकें और हर प्रकार के आतंकी हमले का मुंह तोड़ जवाब दे सकें। कुल मिला कर इस चिप की मदद से जवान को आतंकियों के कवरेज एरिया में आने के बाद ही उन्हें संकेत मिलने शुरू हो जाएंगे और समय रहते जवान अपनी तैयारी कर लेगा।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे