Patrika Hindi News

भाजपा के दो राज्यों में ड्रेस कोड लागू, असम के बाद अब झारखंड में आदेश

Updated: IST dress code, dress code in assam, dress code in Jha
बीजेपी शासित राज्यों में सरकारी बाबूओं को ड्रेस कोड लागू करने की तैयारी चल रही है। असम के बाद अब झारखंड सरकार ने फार्मल ड्रेस कोड लागू किया है।

रांची:झारखंड सरकार अपने अधिकारी और कर्मचारियों के लिए ड्रेस कोड लागू करने की योजना बना रही है। राज्य सरकार ने सचिवालय के अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए एक जुलाई से फॉर्मल ड्रेस कोड लागू कर दिया है। इसके तहत सरकारी बाबू जींस टी शर्ट या स्पोर्ट्स शूज और महिला कर्मचारी जींस नहीं पहन सकती हैं। सरकारी कर्मचारियों के लिए फॉर्मल ड्रेस पहनकर दफ्तर आना होगा।

हाईकोर्ट ने पहनावे पर की थी टिप्पणी
जानकारी के मुताबिक पिछले दिनों यह नोटिस किया गया कि सचिवालय की बैठकों में लोग तरह-तरह की ड्रेस में आ जाते हैं, कोई जींस-टी शर्ट में नजर आता है, तो कोई स्पोर्ट्स शूज पहन कर ही दफ्तार आ जाता है। मुख्य सचिव राजबाला वर्मा ने इस पर भी ध्यान दिलाया था, वहीं उच्च न्यायालय ने भी पिछले दिनों राज्य के अफसरों के पहनावे पर टिप्पणी की थी और कोर्ट में जींस- टी शर्ट पहन कर आने पर आपत्ति दर्ज की थी और महाधिवक्ता की ओर से राज्य सरकार को इसकी जानकारी भी दी गई।
खास ड्रेस या रंग पर नहीं फोकस
हालांकि कार्मिक विभाग ने किसी खास ड्रेस या रंग के बाबत निर्देश जारी नहीं किया है, बस फार्मल ड्रेस में आने के लिए अपने कर्मचारियों को कहा है। निर्देश के अनुसार अधिकारी और कर्मचारी पैंट-शर्ट और सामान्य जूते में नजर आएंगे। वहीं महिला कर्मचारी-अधिकारी दुपट्टे के साथ सलवार समीज या फिर साड़ी पहन कर दफ्तार आएंगी।

असम सरकार में ड्रेस कोड लागू
गौरतलब है कि इससे पहले असम सरकार ने भी अपने कर्मचारियों के लिए ड्रेस कोड लागू किया है। लेकिन सरकार ने इसे स्वैच्छिक किया है। इसके तहत पारंपरिक पहनावे को बढ़ावा दिया जाएगा। प्रस्तावित ड्रेस कोड के तहत पुरुषों को धोती-कुर्ते और महिलाओं को मेखला-चादर में दफ्तर आने को कहा गया है। यह ड्रेस कोड महीने के पहले और तीसरे शनिवार को लागू होगा।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???