Patrika Hindi News

> > > Fog: Three killed in road accident in Allahabad. 70 Trains late

घने कोहरे के कारण 70 ट्रेनें लेट, सड़क हादसे में तीन की मौत

Updated: IST fog in city
भारत मौसम विभाग ने कहा कि इस वर्ष भारत में ठंड 'सामान्य से ज्यादारहने की संभावना है, लेकिन उत्तर भारत में सर्दी कम पड़ेगी

नई दिल्ली। दिल्ली-एनसीआर में आज भी कोहरा छाया है। दृश्यता कम होने की वजह से सड़कों पर वाहनों की रफ्तार कम है। इसका असर उड़ानों और ट्रेनों पर भी पड़ा है। कई ट्रेनें देरी से चल रही हैं। वहीं कोहरे की वजह से उत्तर प्रदेश में सड़क हादसा हो गया, जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई।

मिली जानकारी के मुताबिक यूपी के इलाहाबाद में कम विजिबिलिटी के कारण एक ट्रक ने कई लोगों को कुछल दिया, जिसमें तीन लोग की मौत हो गई और पांच लोग घायल हो गया। घायलों को स्थानीय अस्पताल में इलाज चल रहा है। वहीं घने कोहरे के कारण उत्तर भारत में 12 ट्रेनों का समय बदला गया है। 70 ट्रेन लेट चल रही हैं। इससे पूर्व गुरुवार को भी सुबह घना कोहरा छाया रहा। यहां का न्यूनतम तापमान सामान्य से दो डिग्री अधिक 11.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम विभाग के एक अधिकारी के मुताबिक आज सुबह दृश्यता का स्तर 50 मीटर से भी कम थी। भारत मौसम विभाग ने कहा कि इस वर्ष भारत में ठंड 'सामान्य से ज्यादारहने की संभावना है, लेकिन उत्तर भारत में सर्दी कम पड़ेगी। यह लगातार दूसरा साल है जब उत्तर भारत में सामान्य से कम ठंड होगी। मौसम विभाग का कहना है, इससे संकेत मिलता है कि इस जोन में 2016-17 की सर्दियों में ठंड सामान्य से कम पडऩे की संभावना है। मौसम विभाग के महानिदेशक केजे रमेश ने बताया, 'देश में इस बार ठंड सामान्य से ज्यादा पड़ेगी, लेकिन उत्तर भारत में ठंड कम रहेगी।

उत्तर भारत में कोहरे की शुरुआत होने के बाद से हवाई यातायात पर इसका प्रभाव नजर आ रहा है। दिल्ली आ रही उड़ाने सबसे ज्यादा प्रभावित रहीं। दिल्ली आने वाली पांच उड़ानों को गुरुवार को जयपुर डायवर्ट किया गया था। यह सिलसिला आज भी जारी रहेगा। उधर जयपुर एयरपोर्ट पर भी आज धुंध का असर देखने को मिला। सवेरे छह बजे दृश्यता ढाई हजार मीटर से कुछ ज्यादा थी जो सवेरे आठ बजे तक पंद्रह सौ मीटर पर आ पहुंची।

एयरपोर्ट प्रशासन ने बताया कि जैसे-जैसे धूप खिलेगी एक बार दृश्यता कम होगी लेकिन उसके कुछ ही देर के बाद दृश्यता सामान्य होने लगेगी और हवाई यातायात सुचारु हो जाएगा। गौरतलब है कि विमानों के संचालन के लिए न्यूनतम दृश्यता करीब सात सौ मीटर की होनी चाहिए। बता दें इससे पहले गुरुवार को कोहरे की वजह से यमुना एक्सप्रेस वे एक हादसा हो गया था। कोहरे के कारण यहां 12 गाडिय़ां आपस में टकरा गई थी जिसमें दो लोगों की मौत हो गई थी जबकि 20 से ज्यादा लोग घायल हुए थे।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???