Patrika Hindi News

> > > Government plans to eliminate the Railway Board

बजट के बाद अब रेलवे बोर्ड को खत्म करने की तैयारी में सरकार

Updated: IST indian Railway Board
रेल मंत्रालय के अधिकारी दबी हुई जुबान में मोदी के इस फैसले का विरोध कर रहे हैं ।

नई दिल्ली। सरकार अब रेल बजट को खत्म करने के बाद रेलवे बोर्ड को भी खत्म करने की तैयारी कर रही है, जिससे अब रेलवे बोर्ड के सदस्यों की रेलवे मंत्रालय के ओर से दी जाने वाली सुविधाएं समाप्त कर दी जाएंगी।

रेल बजट को आम बजट में शामिल करने से रेल मंत्रालय के अधिकारियो को झटका लगा है क्योंकि जो वर्षों से रेल मंत्रालय में काम कर रहे थे अब उनकी नियुक्ति अन्य मंत्रालयों में हो सकती है, जिसकी तैयारी केंद्र सरकार की तरफ से की जा चुकी है। जो पहले रेल मंत्रालय में वित्त का काम देख रहे थे अब उनकी जगह आईएएस अधिकारी रेल मंंत्रालय का वित्त संबंधी काम देखेंगे। अब रेलवे में आईएएस अधिकारी रेल मंत्रालय के बड़े बड़े कारखानों को भी अपनी देख रेख में चलाएंगे।

यही नहीं प्रधानमंत्री मोदी का प्लान ट्रांसपोर्ट, रेल के अलावा एक अन्य मंत्रालय को इकटï्ठा कर एक मंत्रालय बनाने का है जिससे तीनों मंत्रालयों की चाबी एक मंत्री के पास होगी। सूत्र बताते हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना देश में स्मार्ट ट्रांसपोर्ट नीति के साथ साथ स्मार्ट रेलवे का है। रेल मंत्रालय के अधिकारी दबी हुई जुबान में मोदी के इस फैसले का विरोध कर रहे हैं ।

आकाशवाणी व दूरदर्शन को एक करने की तैयारी
मोदी सरकार जल्द ही आकाशवाणी और दूरदर्शन को एक करने जा रही है, जिसकी तैयारियां शुरू कर दी गई है। मोदी सरकार सभी मंत्रालयों के खर्चो को कम करने के लिए जहां दो-दो मंत्रालयों को एक करने की योजना बना रही है वहीं मंत्रालयों में वर्षों से चल रही समितियां, बोर्ड व अन्य समितियों को भंग करने के भी तैयारी में है जिससे मंत्रालयों का खर्चा कम किया जा सके। रेल मंत्रालय में हिंदी समिति पहले ही भंग हो चुकी है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे