Patrika Hindi News

गर्मी का कहर, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना में 700 से अधिक लोगों की मौत

Updated: IST Heat wave
गर्मी और लू के गरम थपेड़ों ने पूरे देश को हिला कर रख दिया है। देशभर में अबतक तकरीबन 700 से ज्यादा लोगों की मौत

आंध्र प्रदेश। गर्मी और लू के गरम थपेड़ों ने पूरे देश को हिला कर रख दिया है। गर्मी का सबसे ज्यादा कहर आंध्र प्रदेश, तेलंगना, ओडिशा और पश्चिम बंगाल में देखने को मिल रहा है जहां अबतक तकरीबन 700 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। इस समय सबसे ज्यादा गर्मी का प्रकोप आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में देखने को मिल रहा है। गर्मी के कहर से इन दो राज्यों में अब तक तकरीबन 500 लोगों की जान जा चुकी है। बीते रविवार को इन दोनों राज्यों में गर्मी के कहर से 165 लोगों की मौत हुई है। तेलंगाना के खम्मन में शनिवार को पारा 48 डिग्री तक पहुंच गया था।

मौसम विभाग का कहना है कि दोनों में राज्यों में अभी तीन दिन और गर्मी का प्रचंड जारी रहेगा। वहीं, दिल्ली-एनसीआर, यूपी, राजस्थान, मध्य प्रदेश, गुजरात और महाराष्ट्र में भी गर्मी खूब कहर बरपा रही है। गर्मी का प्रकोप बढ़ने से दक्षिण भारत के कई शहरों के अस्पतालों में मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ी है। देश में सबसे अधिक तापमान उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में 47.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। ओडिशा में 46.7 डिग्री सेल्सियस के साथ औद्योगिक शहर अंगुल सबसे गर्म स्थान रहा।

मौसम विभाग के मुताबिक महाराष्ट्र के चंद्रपुर नौगांव में पारा 47 डिग्री पर बना रहा। राजस्थान के जैसलमेर और श्रीगंगानगर में तापमान 45.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। कोटा में पारा 45.5, फलौदी, अलवर में 45, बीकानेर और बाड़मेर मे यह क्रमश: 44.6 और 44.2 डिग्री सेल्सियस रहा। दिल्ली-एनसीआर में रविवार को पारा एक डिग्री घटकर 43.5 डिग्री सेल्सियस पर रहा। यहां शनिवार को साल का सबसे गर्म दिन 44.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था। आंध्र और तेलंगाना गर्मी की सबसे बुरी मार झेल रहे हैं। इसके अलावा तेलंगाना के खम्मन में करीब 70 साल पुराना रिकॉर्ड टूट गया। यहां खम्मन में शनिवार को तापमान 48 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???